सड़को पर बिना मास्क के दिखें तो पड़ेगा प्रशासन का डंडा, इन जगहों पर चल रही गोपनीय जांच

खबरें बिहार की

Patna: बिहार में कोरोना संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है. ऐसे में सरकार द्वारा जारी सभी गाइडलाइन्स का पालन सख्ती से कराने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं. बिहार की राजधानी पटना में भी डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने आदेश जारी करते हुए गोपनीय जांच करने के निर्देश दिए हैं. खासकर वैसे लोग जो यात्री बस या फिर तीन पहिया वाहनों से सफ़र करते हैं, उनकी जांच की जाएगी. डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने इसे लेकर संबंधित यात्रियों को आदेश जारी किया है.

बसों और तीन पहिया वाहनों में कोविड गाइडलाइन का पालन हो रहा है या नहीं, इसकी जांच के साथ ही सार्वजनिक स्थानों की भी गोपनीय पड़ताल कराई जा रही है. इसके लिए स्पॉट और अफसर दोनों चिन्हित कर दिए गए हैं. अफसरों की जांच रिपोर्ट के बाद पटना में कोरोना से सुरक्षा को लेकर सख्ती बढ़ाई जा सकती है.

डीएम के आदेशानुसार यह तय किया गया है कि यात्री बसों और तीन पहिया वाहनों में यात्रा कर रहे यात्रियों के मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंस का पालन करने की जांच की जाएगी. बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट जैसे भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर दो गज की दूरी का अनुपालन हो रहा है या नहीं, इसकी जांच-पड़ताल कराई जाए. गोपनीय आदेश में यह भी कहा गया है कि इसके लिए उच्च स्तरीय आदेश प्राप्त हुआ है, इसी क्रम में आज विशेष जांच टीम को लगाया जा रहा है.

आपको बता दें कि पटना में जो 6 स्पॉट जांच के लिए चिन्हित किये गए हैं उनमें मीठापुर बस स्टैंड, राजेंद्र नगर पुल ओवर ब्रिज के नीचे, पटना जंक्शन रेलवे स्टेशन, सगुना मोड़, अगमकुआं बड़ी पहाड़ी मोड़, कारगिल चौक शामिल हैं. यहां अधिकारियों को तैनात कर दिया गया है. इतना ही नहीं जांच के बाद सभी अधिकारियों को डीएम को रिपोर्ट सौंपनी होगी.

Source: Daily Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *