जहां शिव-पार्वती ने लिए थे सात फेरे, वहीं होगी मुकेश अंबानी के बेटे की शादी

जानकारी

पटना: भारत के सबसे धनी उद्योगपति मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश और हीरा कारोबारी रसेल मेहता की छोटी बेटी श्लोका की शादी देवभूमि उत्तराखंड के इस मंदिर में हो सकती है। रुद्रप्रयाग जिले के मशहूर त्रियुगी नारायण मंदिर में आकाश और श्लोका की शादी की रस्में पूरी हो सकती हैं।

इसे लेकर बीते दिनों रिलायंस कंपनी के अधिकारियों की एक टीम ने मंदिर और यहां तैयार हो रहे वेडिंग डेस्टिनेशन की जानकारी जुटाई। उधर, सरकार भी इस मौके से चूकना नहीं चाहती, क्योंकि यहां आयोजन होने से वेडिंग डेस्टिनेशन की शानदार ब्रांडिंग होनी तय है।

त्रियुगी नारायण मंदिर के बारे में मान्यता है कि यहां शादी करने वाले जोड़े की शादीशुदा जिंदगी संवर जाती है। इस मंदिर में भगवान शिव और माता पार्वती का विवाह हुआ था और आज भी इनकी शादी की निशानियां यहां मौजूद हैं। कहा जाता है कि मंदिर में एक ज्वाला पिछले तीन युगों से जल रही है। इसी ज्वाला को साक्षी मानकर भगवान शिव और पार्वती ने विवाह किया था।

मंदिर में मौजूद अखंड धुनी के चारों ओर भगवान शिव ने पार्वती के संग फेरे लिए थे। मंदिर में श्रद्धालु प्रसाद के रूप में लकड़ियां भी चढ़ाते हैं। साथ ही इस पवित्र अग्नि कुंड की राख अपने घर ले जाते हैं। कहते हैं यह राख वैवाहिक जीवन में आने वाली सभी परेशानियों को दूर करती है।

बीते दिनों त्रिवेंद्र सरकार ने इस मंदिर के एेतिहासिक महत्व को ध्यान में रखते हुए इस स्थान को वेडिंग डेस्टिनेशन के रूप में विकसित करने का फैसला किया था। इसके तहत यहां आवश्यक सुविधाएं जुटाने का काम शुरू हो चुका है। वेडिंग डेस्टिनेशन बनने से इस मंदिर को देश-विदेश में पहचान मिलेगी।

सूत्रों ने बताया कि वेडिंग डेस्टिनेशन बनने के बाद सबसे पहला आयोजन अंबानी परिवार की इस हाईप्रोफाइल शादी से जुड़ा हो सकता है। इसकी कमान मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार केएस पंवार संभाले हुए हैं। गौरतलब है कि उत्तराखंड से अंबानी परिवार का लगाव पुराना है। अक्सर मुकेश अंबानी यहां चार धाम के दर्शन के लिए आते हैं।

Source: Live News

Leave a Reply

Your email address will not be published.