जब सुशील मोदी से अटल जी ने कहा- ‘तुम बिहारी हो पर मैं अटल बिहारी हूं’

राष्ट्रीय खबरें

पटना: देश के महान राजनेताओं में से एक अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया है. उन्होंने नई दिल्ली एम्स में गुरुवार को अंतिम सांस ली. उनके निधन के साथ ही पूरे बिहार समेत पूरा देश शोक में डूब गया है. वह एक महाने राजनेता, कवि, देशभक्त और पत्रकार थे. उन्हें युवा से लेकर हर तबके लोग जानते थे.

उनके निधन के बाद सभी राजनेता उनके साथ बिताये हुए दिनों को याद कर रहे हैं. उनके साथ बिताए हुए पलों को याद कर भावुक हो रहे हैं.

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर कहा आवाज़ का जादूगर हमेशा हमेशा के लिए सो गया..मेरी विनम्र श्रद्धाअंजलि.. सुशील मोदी अटल बिहारी वाजपेयी को देखने के लिए एम्स पहुंचे थे. उनके साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी थे.

वहीं, सुशील मोदी ने वाजपेयी जी के साथ बिताए हुए पलों के बारे में बताते हुए कहा है कि अटल बिहारी बिहार आते थे तो कहते थे कि तुम बिहारी हो तो हम अटल बिहारी हैं. वो जब भी बिहार आते थे तो किसी होटल में नहीं बल्कि किसी कार्यकर्ता के घर ही रहते थे. सुशील मोदी ने बताया कि अटल जी ही एक ऐसे नेता थे जो जन सभाओं में भीड़ होती थी तो उत्साहित नहीं होते थे. बल्कि कहते थे कि भीड़ को वोट में बदलना ज्यादा जरुरी है.

सुशील मोदी ने एक निजी बात को याद करते हुए कहा कि मैंने अटलजी को सिर्फ एक पोस्टकार्ड भेजकर अपनी शादी का निमंत्रण दिया था लेकिन चुनाव हारने के बावजूद वो हमारी शादी में पहुंचे थे. शायद वो इसलिए मेरी शादी में आये थे क्योंकि मेरा विवाह अंतर्जातीय विवाह था. अटलजी हमेशा से अंतर्जातीय विवाह को बढ़ावा देते थे. सुशील मोदी बोले कि अटल बिहारी वाजपेयी उन्हें जानते भी नहीं थे, फिर भी मेरी शादी में शामिल हुए थे.

उन्होंने बताया कि मैं अटल जी की प्रेरणा से ही राजनीति में आया था और जब मेरी शादी में वो शिरकत करने आए थे तो मुझसे कहा था कि अब तुम्हारा छात्र जीवन ख़त्म हुआ अब सक्रिय राजनीति में आ जाओ.

Source: Zee News

Leave a Reply

Your email address will not be published.