बाबा के डेरे पर सेना का कब्जा, मिला हथियारों का ढेर

राष्ट्रीय खबरें

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के गुंडो के उत्पात मचाने के बाद पीएम मोदी हरियाणा सरकार से खासे नाराज हैं। उन्होंने गृह मंत्रालय को मामले को निपटाने के आदेश दिए हैं।

वे कल से ही स्थिति पर नजर बनाए हुए थे। मोदी के आदेश के बाद सेना बाबा के सिरसा स्थित डेरे में घुस गई है और गुंडो को बाहर निकालकर पीट रही है। पूरे डेरे पर सेना का कब्जा हो गया है।

वहां से सेना को हथियारों का जखीरा मिला है। गुरमीत राम रहीम सिंह को भले ही रोहतक की हाईटेक मानी जाने वाली सुनारिया जेल में भेजा गया हो, लेकिन राम रहीम को सुनारिया जेल का खाना पसंद नहीं आया।

सूत्रों का कहना है कि उन्हें देर रात तक नींद भी नहीं आई थी। यह स्थिति तब है जब बाबा को वीआईपी ट्रीटमेंट देने में कोई कमी नहीं की जा रही है। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम को शुक्रवार शाम पांच बजे सुनारिया जेल में लाया गया था। जेल सूत्रों का कहना है कि पहले उन्हें गेस्ट हाउस में रखा गया।









जहां पर उन्होंने एक कप चाय की मांग की। उस समय तक राम रहीम का स्वास्थ्य परीक्षण नहीं हो पाया था, इसलिए उन्हें चाय नहीं दी गई। करीब 15 मिनट बाद पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने राम रहीम का स्वास्थ्य परीक्षण किया। इसके बाद ही उन्हें चाय दी गई।

जब उन्हें जेल की एक बैरक में शिफ्ट कर दिया गया तो रात साढ़े नौ बजे के करीब उन्हें जेल मैनुअल में बने चपाती, दाल, चावल और आलू की सूखी सब्जी परोसी गई।




जेल सूत्रों का कहना है कि उन्होंने एक भी रोटी नहीं खाई। पुलिसवालों ने भी थाली वापस ले ली और बाबा को भूखा ही रहने दिया। बैरक में सुरक्षा को दोगुना कर दिया गया है। डेरामुखी को अप्रूवल सेल में रखा गया है।

डेरा प्रमुख के साथ हेलिकॉप्टर में उनकी गोद ली बेटी हनीप्रीत भी पीटीसी (पुलिस ट्रेनिंग सेंटर) सुनारिया पहुंची थी। इसके बाद उसके चिन्मय कॉलोनी में रहने वाले डेरा समर्थक सुरेंद्र चावला के घर जाने की सूचना मिली थी, लेकिन उसके बाद उसका कुछ पता नहीं चला। सूत्रों का कहना है कि हनीप्रीत दिल्ली की तरफ निकल गई है लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हुई है।












Leave a Reply

Your email address will not be published.