वाटरपार्क में शराब पार्टी, होटल में अय्याशी, 30 लड़के-लड़कियां गिरफ्तार

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में शराबबंदी के बाद भी शराब आराम से उपलब्ध है। शराब पकड़े जाने पर कड़ी कार्रवाई का भी प्रावधान है, इसके बाद भी लोग खुलेआम शराब पी रहे हैं। ऐसा ही मामला फुलवारीशरीफ में पकड़ा गया है। यहां एक वाटर पार्क में शराब पार्टी करते 15 लोगों को गोपालपुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वहीं औरंगाबाद में होटल में अय्याशी करते 15 लड़के-लड़कियों को पकड़ा गया है।

वाटर पार्क से पुलिस ने शराब की चार बोतलें बरामद की हैं। पकड़े गये सभी आरोपित बड़े घरों के लोग बताए जाते हैं। गोपालपुर थानाध्यक्ष अभिषेक रंजन ने बताया कि वाटर पार्क में एक व्यक्ति की शादी की वर्षगांठ मनाई जा रही थी। गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी की गई। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

वहीं, औरंगाबाद में एक होटल में अय्याशी करते लड़के लड़कियों को पकड़ा गया है। जिस होटल में सेक्स होटल का खुलासा हुआ है, यह बसपा नेता योगेंद्र वर्मा का बताया जा रहा है। योगेंद्र वर्मा पहले जदयू में थे। अब बसपा के ओबरा विधानसभा प्रभारी हैं। पुलिस के अनुसार होटल से सात लड़के और आठ लड़कियों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा है। पकड़े गये लड़के-लड़कियों को दाउदनगर थाना लाकर उनसे पूछताछ की गई और उनके परिजनों को भी बुलाया गया है।

दाउदनगर पुलिस को सूचना मिली थी कि होटल में कई दिनों से सेक्स रैकेट चल रहा है। इसकी सूचना पुलिस के वरीय अधिकारियों को दी। पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार के निर्देश पर दाउदनगर के एसडीपीओ ऋषि राज के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई। टीम ने सूचना का सत्यापन करने के लिए त्वरित कार्रवाई करते हुए होटल में छापेमारी की।

पुलिस ने होटल के अलग-अलग कमरों से सात लड़के और आठ लड़कियों को आपत्तिजनक हालत में पकड़ा है। इधर मौका पाकर होटल का स्टाफ मौके से फरार हो गया। पुलिस पकड़े गए लड़के-लड़कियों को थाने ले आई और उनके परिजनों को आगे की कार्रवाई के लिए दाउदनगर थाना बुलाया है।

पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार के अनुसार होटल में सेक्स रैकेट के संचालन की सूचना मिली थी। इस पर होटल में छापेमारी की गई। छापेमारी के दौरान होटल का मैनेजर सहित पूरा स्टाफ फरार हो गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.