वॉशरूम में मोबाइल का इस्तेमाल बन सकता है गंभीर समस्याओं की वजह, आज ही करें आदत में बदलाव

खबरें बिहार की जानकारी

आज के दौर में मोबाइल फोन लोगों के जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुका है। आपने अपने आसपास ऐसे कई लोग देखे होंगे, जो सुबह आंख खुलते ही मोबाइल पकड़ लेते हैं और रात को मोबाइल देखते-देखते ही सो जाते हैं। मौजूदा समय में लोग अपना सबसे ज्यादा समय मोबाइल के साथ ही बिताते हैं। इतना ही नहीं कई लोगों को तो इसकी ऐसी लत लगी है कि वह वॉशरूम में भी मोबाइल लेकर जाते हैं। अगर आप भी इन्हीं लोगों में से एक हैं या ऐसे किसी व्यक्ति को जानते हैं तो उसे सावधान करने का समय आ गया है।

अपने मनोरंजन के लिए वॉशरूम में मोबाइल का इस्तेमाल करना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। वॉशरूम में फोन का इस्तेमाल करने से आपको न सिर्फ गंभीर समस्याएं हो सकती हैं, बल्कि आप कई जानलेवा बीमारियों के शिकार भी हो सकते हैं। साल 2016 में आई एक रिपोर्ट में यह सामने आया कि 41 फीसदी ऑस्ट्रेलियाई वाशरूम में मोबाइल का इस्तेमाल करते हैं। इन लोगों के फोन पर कई कीटाणु लगे पाए गए थे। अगर आप भी ऐसे में लोगों के शामिल हैं, तो इस आर्टिकल को ध्यान पढ़ें। हम आपको बताएंगे वॉशरूम में मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने से होने वाले नुकसानों के बारे में-

पाइल्स की हो सकती है समस्या

अक्सर पाचन संबंधी दिक्कतों की वजह से लोग पाइल्स का शिकार हो जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि वॉशरूम में मोबाइल फोन का इस्तेमाल भी पाइल्स की वजह सकता है। हैरान करने वाली यह बात सच है, क्योंकि मोबाइल चलाने की वजह से टॉयलेट सीट पर ज्यादा देर तक बैठे रहने से प्रेशर पड़ता है। इसके चलते पाइल्स और फिशर के होने की संभावनाएं काफी बढ़ जाती हैं।

UTI की बढ़ सकता है खतरा

आप अक्सर सोचते होंगे कि अगर आप अपने वॉशरूम को साफ रख रहे हैं, तो इसमें कीटाणु कैसे रह सकते हैं। लेकिन आपकी यह धारणा पूरी तरह गलत है। दरअसल, टॉयलेट में कई कीटाणु और बैक्टीरिया का राज होता है। ऐसे में जब लोग मोबाइल चलाते हुए यहां काफी देर पर बैठे सकते हैं तो यह बैक्टीरिया फोन पर चिपक जाते हैं, जिससे पेट दर्द और यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (UTI) जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

टॉयलेट से पूरे घर में फैल जाते हैं कीटाणु

आप जब भी वॉशरूम में अपना मोबाइल फोन लेकर जाते हैं, तो उसके साथ वापस कई सारे कीटाणु और खतरनाक बैक्टीरिया लेकर लौटते हैं। दरअसल, टॉयलेट से आने के बाद आप अपने हाथ तो धो लेते हैं, लेकिन मोबाइल में चिपके कीटाणु आपके मोबाइल के जरिए हर जगह फैल जाते हैं, जो आपके पूरे घर के लिए खतरनाक हो सकता है।

डायरिया का बढ़ सकता है खतरा

टॉयलेट में मौजूद अलग-अलग चीजों पर ई-कोली नामक बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो सेहत को कई तरीके नुकसान पहुंचा सकते हैं। यह बैक्टीरिया न सिर्फ आंतों से संबंधित गंभीर समास्याओं की वजह बन सकता है, बल्कि इससे डायरिया आदि भी हो सकता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.