वोटर कार्ड को आधार से किया जाएगा लिंक, चुनाव आयोग ने दिया मोदी सरकार को प्रस्ताव

खबरें बिहार की

Patna: केंद्र सरकार आधार कार्ड को मतदाता सूची के साथ लिंक करने पर विचार कर रही है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने लोकसभा में इस बात की जानकारी दी है। रविशंकर प्रसाद ने गुरुवार को बताया कि सरकार मतदाता सूची को आधार से जोड़ने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि इससे एक व्यक्ति के अलग-अलग जगहों पर होने वाले एनरॉलमेंट को भी खत्म किया जा सकेगा।

बता दें कि चुनाव आयोग ने आधार कार्ड को मतदाता सूची के साथ लिंक करने का प्रस्ताव दिया था, ताकि मतदाता सूची को और भी सुव्यवस्थित ढंग से तैयार किया जा सके। कानून मंत्री ने कहा कि मतदाता सूची को आधार के साथ लिंक करने से जुड़ा चुनाव आयोग का प्रस्ताव सरकार के विचाराधीन है। उन्होंने लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी।

प्रसाद ने बताया कि चुनाव आयोग ने मतदाता सूची को आधार प्रणाली के साथ लिंक करने का प्रस्ताव दिया है ताकि मतदाताओं का नाम एक साथ ही कई स्थानों पर मतदाता सूची में होने की समस्या पर अंकुश लगाया जा सके। मंत्री ने कहा कि ऐसा करने के लिए चुनाव से संबंधित कानूनों में संशोधन की जरूरत पड़ेगी। उन्होंने बताया कि यह मामला सरकार के विचाराधीन है।

उनसे सवाल किया गया था कि वोटर ID के साथ आधार को लिंक करने संबंधी चुनाव आयोग के प्रस्ताव के संदर्भ में मौजूदा स्थिति क्या है? इसका जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चुनाव आयोग के प्रस्ताव को लागू करने के लिए मतदाता सूची से जुड़े कुछ कानूनों में बदलाव करना होगा और अभी इस पर विचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार ने कहा है कि चुनाव आयोग ने मतदाता सूची को सुरक्षित और सही रखने के लिए कई कदम उठाए हैं।

Source: Daily Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *