पटना: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली अफगानिस्तान के खिलाफ ऐतिहासिक टेस्ट का हिस्सा नहीं है लेकिन क्रिकेट जगत में उनके बल्ले की गूंज आज भी सुनाई दी. मंगलवार को बीसीसीआई के सालाना पुरस्कार समारोह में कोहली छाए रहे जिन्हें लगातार दो सत्र के लिए साल के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर होने के नाते पॉली उमरीगर ट्रॉफी से सम्मानित गया.

शानदार फॉर्म में चल रहे भारतीय कप्तान ने 2016-17 और 2017-18 में जबर्दस्त प्रदर्शन किया. वह फिलहाल आईपीएल के दौरान गर्दन में लगी चोट का उपचार करा रहे हैं जिसकी वजह से वह सरे के लिये काउंटी क्रिकेट भी नहीं खेल सके. कोहली 15 जून को एनसीए में फिटनेस टेस्ट देंगे.

कोहली ने टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री के हाथों यह ट्रॉफी ग्रहण की. इस मौके पर कोहली ने कहा कि इस अवॉर्ड की अहमियत और ज्यादा बढ़ जाती है क्योंकि आज मेरी पत्नी यहां मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि बीते साल भी मुझे इस अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था.

पुरस्कार समारोह में अफगानिस्तान की राष्ट्रीय टीम भी मौजूद थी जो गुरूवार से भारत के खिलाफ पहला टेस्ट खेलेगी. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन भी मौजूद थे जिन्होंने एमएके पटौदी स्मृति व्याख्यान दिया. इस मौके पर गुजरे जमाने के और मौजूदा पीढ़ी के भारतीय क्रिकेटर एक ही छत के नीचे मौजूद थे.

दिग्गज क्रिकेटर अंशुमान गायकवाड़ और सुधा शाह को सी के नायडू लाइफटाइम अचीवमेंट सम्मान दिया गया. जलज सक्सेना, परवेज रसूल और कृणाल पंड्या को घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छे प्रदर्शन का पुरस्कार मिला. जलज और रसूल को रणजी ट्राफी में सर्वश्रेष्ठ हरफनमौला और कृणाल को विजय हजारे वनडे चैम्पियनशिप में उनके प्रदर्शन के लिये पुरस्कार मिले.

कृणाल भारत ए के साथ दौरे पर होने के कारण पुरस्कार लेने के लिये मौजूद नहीं थे. इसके अलावा हरमनप्रीत कौर को 2016-17 के लिए और स्मृति मंधाना को 2017-18 के लिए सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर का सम्मान दिया गया.

Source: Aaj tak

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here