बिहटा के एक गरीब किसान की बेटी ने मेडिकल की परीक्षा में हुई सफल, पूरा गाँव मना रहा जश्न

खबरें बिहार की

दिया नहीं कोई मौका, बस पराया बनाकर सोचा, एक बार गले से लगा लो, फिर चाहे हर कदम आजमा लो।

मैं बोझ नहीं, भविष्य हूं, बेटा नहीं, पर बेटी हूं’ को चरितार्थ करते हुए बिहटा प्रखंड की बेटी चांदनी कुमारी ने अपने गांव, जिला, राज्य सहित माता-पिता का नाम रौशन किया है।

पेशे से किसान स्थानीय बिहटा प्रखंड के सिकंदरपुर निवासी संजय कुमार की पुत्री चांदनी कुमारी ने मेडिकल की राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा 2017 (नीट) में सफलता अर्जित कर गांव, पंचायत को गौरवान्वित करने का काम किया है।

बेटी की सफलता पर पिता संजय कुमार सिंह एवं माता बबिता देवी काफी प्रसन्न हैं। इस उपलब्धि से संबंधी भी बड़े खुश हैं। प्रतिभा की धनी चांदनी ने जीसी हाईस्कूल रामबाग, बिहटा से 80 फीसद अंक के साथ मैट्रिक एवं स्थानीय जीजे कॉलेज रामबाग से इंटर की परीक्षा 72 फीसद अंकों के साथ उत्तीर्ण की है।
डॉक्टर बनकर लोगों की सेवा करना उसका लक्ष्य है। नीट परीक्षा में पहले प्रयास में सफलता हासिल हुई है। सफलता का श्रेय अपने बाबा, चाचा और माता-पिता सहित संबंधियों को देते हुए चांदनी ने कहा कि उसकी पढ़ाई के समय कई बाधाएं आईं परन्तु वह घबराई नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.