Vijender Singh
प्रो- बॉक्सिंग में भारत के धुरंधर बॉक्सर Vijender Singh ने किया ख़िताब पर कब्ज़ा

भारत के पेशेवर बॉक्सर Vijender Singh ने चीन के Zulpikar Maimaitiali को रोचक मुकाबले में दी मात। इसके साथ ये विजेंदर की लगातार 9वीं जीत हैं।

मुंबई में चल प्रो- बॉक्सिंग मुकाबले में भारत के धुरंधर बॉक्सर विजेंदर सिंह ने चीन के Zulpikar को हराकर ख़िताब पर कब्ज़ा किया, मुकाबले से पांच दिन पहले प्रेस कांफ्रेंस में Vijender Singh ने कहा था कि चाइनीज माल ज्यादा देर नहीं चलता, वहीँ चीन के बॉक्सर ने बभी विजेंदर को चेतावनी देते हुए कहा था कि तुम्हे रिंह में चीन की ताकात दिखाऊंगा।

चौथे राउंड में विजेंदर ने की वापसी। पहले राउंड में बराबरी के साथ शुरुआत। दूसरे और तीसरे राउंड में Zulpikar ने बनाई बढ़त। चौथे दौर में जुल्फिकार को गलत मूव के लिए एक अंक भी गंवाना पड़ा। पांचवें राउंड में भी विजेंदर ने चीनी मुक्केबाज पर जमकर आक्रमण किया। इसके साथ ही मैच में अपनी पकड़ मजबूत कर ली।




आधा मुकाबला हो चुका है। दोनों ही मुक्केबाज हार नहीं मान रहे हैं। मुकाबले का पाला दोनों की ओर मौके-मौके पर झुक रहा है। छठे राउंड के बाद मुकाबला एक बार फिर रोचक हो गया है। आज विजेदर के मुक्कों में एकुरेसी कम दिखाई पड़ रही है। जिसका फायदा विरोधी मुक्केबाज को मिल रहा है।




सातवें राउंड के बाद दोनों ही मुक्केबाज थके हुए दिख रहे हैं। अब मुकाबला वही मुक्केबाज जीतेगा जिसके फिटनेस ज्यादा बेहतर है। किसके अंदर कितनी एनर्जी बाकी है। आठवें दौर के बाद भी कोई मुक्केबाज हार मानता नहीं दिख रहा है। आखिरी में यदि कोई मुक्केबाज चूकता है तो उसे अपना खिताब गंवाना पड़ेगा।

Vijender Singh
Mumbai: Indian boxer Vijender Singh and Chinese boxer Zulpilkar Maimaitiali during their weigh-in and face-off for the ‘Battleground Asia’, in Mumbai on Friday. PTI Photo by Shashank Parade (PTI8_4_2017_000105A)

नौंवें राउंड में चीनी मुक्केबाज ने Vijender Singh के प्राइवेट पार्ट पर पंच मारा। इसके बाद पूरे स्टेडियम में दर्शक चीटर चीटर आवाज लगाने लगे। इसके बाद भी विजेंदर ने खेलना जारी रखा और एक शानदार मुक्का चीनी मुक्केबाज के चेहरे पर जड़ा। विजेंदर की नाक से खून निकलने लगा इसके बाद भी वो रिंग में बने रहे।




आधे मुकाबले के बाद विजेंदर Vijender Singh डिफेंस करते ज्यादा दिखे। अंतिम राउंड में वो पूरी तरह थक गए थे और किसी तरह मुकाबले के खत्म होने के इंतजार कर रहे थे।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here