विदेश से आए 4 हजार पासपोर्टधारकों की तलाश शुरू, सिविल सर्जन ने 118 के घर भेजी जांच टीम

जानकारी

विदेश से भारत लौटे 4 हजार बिहार के एड्रेस वाले पासपोर्टधारकों की तलाश शुरू हो गयी है। 17 नवंबर से 29 नवंबर के बीच अलग-अलग तिथियों में ये सभी विदेशी यात्री भारत लौटे हैं। स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर सभी जिलों में विशेष कोरोना जांच टीम भेज कर इन यात्रियों की पहचान सुनिश्चित की जा रही है और मौके पर ही उनकी आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल लिया जा रहा है।

 

स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सभी जिलों के सिविल सर्जनों को विदेश से आए यात्रियों के नाम, पता व फोन नंबर उपलब्ध कराया गया है और उनसे निर्धारित फॉर्मेट में रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया है। बुधवार को राज्य स्वास्थ्य समिति की ओर से विदेश से आए यात्रियों के लिए निर्धारित फॉर्मेट तैयार कर जिलों को भेज दिया गया

 

इस फार्मेट में पहचान किए गए व्यक्ति का नाम, पता, यात्रा से लौटने की तिथि, जिनकी पहचान नहीं हुई उनका नाम, फोन नंबर इत्यादि के अतिरिक्त पहचान किए गए यात्रियों के कोरोना सैंपल लिए जाने की तिथि, सैंपल जांच की रिपोर्ट, क्वारंटीन में रहने की तिथि इत्यादि की जानकारी मांगी गयी है। 

 

पटना में सर्वाधिक 350 पासपोर्टधारकों की हो रही तलाश 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पटना में सर्वाधिक 350 पासपोर्टधारकों की तलाश की जा रही है। इनमें से जिला सिविल सर्जन द्वारा 118 यात्रियों के घरों पर जांच टीम भेजी गयी। इनमें 33 घरों में ही विदेश से आए यात्री मिलें। इन सभी 33 यात्रियों का सैंपल एकत्र किया गया और उन्हें आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजा गया है।

इन 33 यात्रियों में से 18 यात्रियो की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है। हालांकि सात दिन के बाद आठवें दिन पुन: इन यात्रियों की कोरोना जांच की जाएगी। जबकि शेष यात्रियों की जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार, इसी प्रकार गोपालगंज, सीवान, पूर्वी चंपारण सहित अन्य जिलों में भी विदेशी यात्रियों की तलाश शुरू कर दी गयी है।

 

अबतक कोई भी संक्रमित नहीं पाया गया

विभागीय सूत्रों के अनुसार राज्य में अबतक विदेश से आए यात्रियों में किसी को भी कोरोना संकमित नहीं पाया गया है। जिला स्वास्थ्य समिति एवं चिकित्सकों द्वारा सभी यात्रियों की सेहत पर लगातार नजर रखी जा रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.