‘चाचा’ नीतीश से राजनीति का गुर सीख तेजस्वी बना रहे देशव्यापी पहचान

राजनीति

पटना: कर्नाटक में जेडीएस नेता कुमारस्वामी के नेतृत्व में गठित नई सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में तमाम विपक्षी नेताओं का जमावड़ा लगा। इन नेताओं के साथ एक ही पंक्ति में बिहार के युवा नेता तेजस्वी यादव भी मौजूद रहे।

बिहार से सिर्फ तेजस्वी यादव को इस शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया गया था। तेजस्वी को जो मौका मिला है, उससे उनका बढ़ता राजनीतिक कद भी मालूम पड़ रहा है। जो राष्ट्रीय स्तर पर उनकी पहचान को और बढ़ाएगा। इसको इस रूप में भी देखा जा सकता है कि विपक्षी पार्टियां जो एकता बनाने की बात कर रही है उसमें तेजस्वी को भी तबज्जो दी जा रही है।

वैसे तेजस्वी यादव की उम्र भले ही कम हो लेकिन उनकी सोच काफी अग्रणी दिखाई पड़ती है। तभी तो जब वह बिहार के उप मुख्यमंत्री रहे तब उन्होंने अपने आप को साबित किया और जब विपक्ष में हैं तो विपक्ष के नेता की भी भूमिका बखूबी निभा रहे हैं।

तेजस्वी यादव लालू यादव के छोटे बेटे हैं इसलिए घर से ही वह राजनीति के गुर सीखे हैं। लेकिन राजनीतिज्ञ मानते हैं कि वह यह गुर बिहार के मुख्यमंत्री और अपने चाचा नीतीश कुमार से यह गुर सिखे हैं। अपनी कटुता बात और सोच से वह कई लोगों को प्रभावित करते हैं। अब ऐसे में जब वह राष्ट्रीय राजनीति में एंट्री कर लिए हैं तो आने वाले दिनों में उनका कद कितना बढ़ता है, यह देखने वाली बात होगी?

वैसे अन्य दल भी तेजस्वी में काफी संभावनाएं देख रहे हैं। तभी तो जब कांग्रेस ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की थी तो उसमें तेजस्वी यादव को प्रमुखता से स्थान दिया गया था।

Source: etv bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.