पटना-गया रेल रूट पर अब 40 नहीं, 70 की स्पीड पर दौड़ेंगी ट्रेनें, लेटलतीफी से मिलेगा छुटकारा

खबरें बिहार की

पटना और गया रेल रूट पर अब पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेनों की स्पीड बढ़ गई है। जानकारी के मुताबिक इस रूट पर अब ट्रेनें 40 की जगह 70 किमी प्रतिघंटे की गति से दौड़ेगी।

इस रूट पर 10 अनाधिकृत रेलवे क्रॉसिंग बंद कराने के बाद रेलवे ने पिछले दिनों स्पीड बढ़ाने का फैसला लिया था। दरअसल, जहानाबाद और परसा बाजार स्टेशन के आसपास लोगों ने 16 जगह अनाधिकृत रूप से क्रॉसिंग बना ली थी। इसके कारण वहां नियंत्रित स्पीड (कॉशन) के साथ ट्रेनों का परिचानल होता था।

डीआरएम रंजन प्रकाश ठाकुर ने कहा कि 90 किमी के रेलरूट पर स्टेशनों के अलावा 16 जगहों पर ट्रेन की गति धीमी करनी पड़ती थी या बिना किसी कारण रुकना पड़ता थी। दानापुर मंडल ने जागरूकता अभियान लाकर अनाधिकृत क्रॉसिंग की संख्या में कमी लाई है।

10 स्थानों पर अनधिकृत क्रॉसिंग को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। बाकी छह के नीचे भी कम ऊंचाई के अंडरपास बनाए जाएंगे। अगले फरवरी तक इस लाइन पर अनधिकृत क्रॉसिंग की संख्या खत्म हो जाएगी। इसके बाद रूट पर पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेनें बिना किसी बाधा के दौड़ेंगी।

गौरतलब है कि रेलवे ने यह फैसला ट्रैक अभियंता, आरपीएफ के अफसर और सीनियर लोको पायलट की सदस्यीय कमेटी की सिफारिश के बाद निर्णय लिया है। दानापुर मंडल के रेलवे क्रॉसिंग के नीचे 42 अंडरपास का निर्माण दानापुर रेल मंडल द्वारा कराया जाएगा। इनका निर्माण मार्च, 2019 तक पूरा हो जाएगा। मंडल में कुल 58 पासिंग है।

इनमें से सभी पासिंग पर रेलकर्मी की नियुक्ति कर दी गई है। अगले मार्च तक सिर्फ 16 पर ही रेलकर्मी की नियुक्ति की जरूरत रह जाएगी। डीआरएम ने बताया कि 42 जगहों पर पटरियों के नीचे से कम ऊंचाई के अंडरपास बनेंगे। दो-तीन सप्ताह में काम शुरू होगा। इससे आम यात्रियों का परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। ट्रेनें लेट भी नहीं होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *