ट्रेन में सीट नहीं, विमान किराया 3 गुना महंगा, घर पर कैसे मनेगी दिवाली और छठ?

खबरें बिहार की जानकारी

पर्व-त्योहार आते ही पटना आने वाले विमानों का किराया सातवें आसमान पर पहुंचने लगा है। लंबी दूरी की ट्रेनों में सीट न मिलने के कारण दिवाली और छठ के आसपास विमान किराये में भारी वृद्धि देखी जा रही है। सबसे ज्यादा असर दिल्ली-पटना रूट पर दिख रहा है। इस रूट पर विमान किराया लगभग तीन गुना महंगा हो गया है। दिल्ली से पटना के बीच 22 अक्टूबर को इंडिगो के विमान का किराया लगभग 15 हजार है। मुंबई रूट पर किराया 20 हजार के पार पहुंच गया है।

दरअसल, 24 अक्टूबर को दीपावली है और इसके छह दिन बाद छठ का पहला अर्घ्य है। ऐसे में टिकटों की मांग बढ़ने से किराये में बेतहाशा वृद्धि हुई है। हवाई टिकट सेवा प्रदान करने वाले एप पर दिए किराये पर नजर डालें तो 22 अक्टूबर को दिल्ली से पटना आने वाले सभी विमानों का किराया 11 हजार से ऊपर पहुंच गया है। इस दिन सबसे कम 11 हजार 940 रुपये किराया विस्तारा की दिल्ली-पटना फ्लाइट में है। एयर इंडिया के दिल्ली-पटना विमान में 12 हजार 885 रुपये किराया है। वहीं, 19 अक्टूबर का किराया दिल्ली पटना रूट पर 6500 से 7500 के बीच है। बाकी दिनों में इस रूट पर किराया 5100 के आसपास रहता है।

दिल्ली-पटना रूट

(सामान्य दिनों में किराया 5 हजार के आसपास)

22 अक्टूबर अधिकतम किराया 14,249

न्यूनतम किराया 11,940

21 अक्टूबर अधिकतम 18,343

20 अक्टूबर अधिकतम 14,249

बेंगलुरु-पटना रूट

(सामान्य दिनों में किराया 7 से 8 हजार के बीच)

22 अक्टूबर अधिकतम किराया 22,699 न्यूनतम किराया 15,989

21 अक्टूबर अधिकतम किराया 16,259

20 अक्टूबर अधिकतम किराया 13,472

● मुंबई से आने के लिए देना होगा 18 से 22 हजार तक

● 19 अक्टूबरको दिल्ली पटना रूट पर किराया करीब 7500

मुंबई-पटना रूट

(सामान्य दिनों में किराया साढ़े सात हजार के आसपास)

22 अक्टूबर अधिकतम किराया 21,588

न्यूनतम किराया 18,333

21 अक्टूबर अधिकतम किराया 18,333

20 अक्टूबर अधिकतम 13,818

हर रूट पर किराये में भारी उछाल

किराये में यह उछाल हर रूट पर है। दरअसल, पटना आने वाली लंबी दूरी की महत्वपूर्ण ट्रेनों में कन्फर्म टिकट का भारी टोटा है। कइ रूटों पर ट्रेनों में नो रूम का बोर्ड लग गया है। जहां टिकट उपलब्ध भी है, वहां भारी वेटिंग है। ऐसे में विमानों की ओर यात्रियों ने रुख किया है। इस वजह से हवाई टिकटों की मांग अचानक बढ़ गई है। यात्रियों के इसी रुझान का फायदा उठाकर विमानन कंपनियां महापर्व में मोटी कमाई की तैयारी में हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.