मिड-डे-मील की क्वालिटी जानने के लिए बच्चों के साथ खाया खाना, सोशल मीडिया पर छाया यह कलेक्टर

जागरूकता

पटना: सरकारी स्कूल में मिलने वाले मिड-डे-मील की क्वालिटी जानने के लिए सरप्राइज दौरे पर स्कूल पहुंचे केरल के एक आईएएस अधिकारी की इस वक्त सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ की जा रही है। दरअसल, अलाप्पुझा के जिला कलेक्टर एस सुहास ने हाल ही में नीर्कुन्नम के सरकारी स्कूल का दौरा किया और वहां मिलने वाले भोजन की क्वालिटी की जांच की। इसके लिए उन्होंने किसी से कोई सवाल-जवाब नहीं किया, बल्कि खुद बच्चों के साथ उनकी क्लास में बैठकर भोजन किया। इंटरनेट पर कलेक्टर एस सुहास द्वारा बच्चों के साथ एक ही बेंच पर बैठकर भोजन करने की तस्वीरें सामने आने के बाद से ही लोग उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं। उनके इस कदम ने न केवल बच्चों का दिल जीता, बल्कि सोशल मीडिया पर भी वह छा गए।

एस सुहास ने बुधवार को लंच के समय श्री देवी विसलम सरकारी स्कूल का दौरा किया और बच्चों को मिलने वाले मिड-डे-मील का जायजा लिया। भोजन की क्वालिटी जानने के लिए उन्होंने बच्चों के साथ बैठकर लंच किया। अधिकारी के दौरे की तस्वीरें उनके फेसबुक पेज पर शेयर की गईं, जिसके बाद से ही लोग उनकी तारीफ कर रहे हैं। इस पोस्ट को अभी तक करीब 3,500 लोगों ने शेयर किया है।

अलाप्पुझा के जिला कलेक्टर का कहना है कि उन्हें पिछले कुछ समय से इस स्कूल में मिलने वाले भोजन को लेकर शिकायतें मिल रही थीं, इसलिए उन्होंने सरप्राइज दौरा करने का फैसला किया। सुहास ने कहा, ‘मैंने स्कूल का दौरा किया और मुझे स्कूल की स्थिति संतोषजनक लगी। जैसा की शिकायतें मिड-डे-मील को लेकर मिल रही थीं, मैंने बच्चों के साथ बैठकर भोजन किया। मुझे खाने में कोई समस्या नहीं महसूस हुई। बच्चों के साथ समय बिताकर बहुत अच्छा लगा।’ इसके साथ ही कलेक्टर ने स्कूल की लाइब्रेरी और कम्प्यूटर लैब का भी दौरा किया। फेसबुक पोस्ट के मुताबिक स्कूल के हेडमास्टर ने कलेक्टर के सामने परिसर में जगह की कमी होने का मुद्दा रखा।

Source: Jansatta

Leave a Reply

Your email address will not be published.