तिरंगे को मिटाने का अभियान, कैसे सहे हिन्दुस्तान? जदयू नेता उपेंद्र कुशवाहा का भाजपा पर हमला

खबरें बिहार की

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक मुख्य राजनीतिक सहयोगी उपेंद्र कुशवाहा ने तिरंगा पर कर्नाटक के मंत्री की टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को भाजपा नेता को ‘देशद्रोही’ करार दिया। कुशवाहा पहले भी सम्राट अशोक को लेकर भाजपा के बयान की आलोचना करते रहे हैं।

जद(यू) के संसदीय बोर्ड के प्रमुख कुशवाहा ने भाजपा शासित कर्नाटक में मंत्री केएस ईश्वरप्पा की उस टिप्पणी को लेकर उनकी आलोचना की, जिसमें उन्होंने कथित तौर पर कहा था कि भविष्य में कभी तिरंगा (राष्ट्र ध्वज) की जगह भगवा ध्वज ले सकता है।

 

कुशवाहा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि कभी सम्राट अशोक का अपमान, कभी तिरंगा को मिटाने का अभियान – आखिर कैसे सहे हिन्दुस्तान? कुशवाहा ने प्रधानमंत्री और कर्नाटक के मुख्यमंत्री को भी ट्वीट में संलग्न करते हुए कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई जी, अविलंब ऐसे देशद्रोही मंत्री के खिलाफ कार्रवाई करने की कृपा करें। 

कर्नाटक के ग्रामीण विकास मंत्री ने बुधवार को कहा था कि …भविष्य में एक समय में 100 या 200 या 500 साल बाद भगवा ध्वज राष्ट्रीय ध्वज बन सकता है। उन्होंने यह भी कहा था कि तिरंगा राष्ट्रीय ध्वज है और हर किसी को इसका सम्मान करना चाहिए। इससे पहले, कुशवाहा ने सम्राट अशोक को मुगल बादशाह औरंगजेब के समान बताने को लेकर लेखक दया प्रकाश सिन्हा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.