इस द‍िवाली पर है ये व‍िशेष योग, जानें लक्ष्‍मी पूजन का शुभ मुहूर्त

आस्था

पटना: इस द‍िवाली पर अमावस्या तिथि, गुरुवार का दिन और चित्रा नक्षत्र यानी क‍ि गुरु चित्रा योग का शुभ संयोग बन रहा है। इस व‍िशेष योग में सात चौघड़िए एक अभिजीत मुहूर्त और दो लग्न मिल रहे हैं, जि‍ससे इस समय लक्ष्मी, गणेश व कुबेर की पूजन व अन्‍य दूसरे कार्य लाभकारी होंगे। यह योग 27 साल बाद पड़ा है। नक्षत्र मेखला की गणना के अनुसार इससे पहले ये 1990 में यह व‍िशेष योग बना था और अब यह 2021 में बनेगा।

diwali puja tradition

दीपावली वाले द‍िन वाले द‍िन सुबह 7.26 म‍िनट से गुरु चित्रा योग शुरू हो जाएगा और यह 24 घंटे तक रहेगा। वहीं ज्‍योत‍ि‍षों के मुताबि‍क द‍िवाली के द‍िन लक्ष्‍मी पूजन के लि‍ए प्रदोष काल शुभ समय माना जाता है। इस दौरान क‍िए गए पूजन से मां लक्ष्‍मी, गणेश जी व कुबेर प्रसन्‍न होकर धन सुख-समृद्घि देते हैं। ऐसे में द‍िवाली की शाम को प्रदोषकाल 5.54 म‍िनट से शुरू होगा और रात 8.26 म‍िनट पर इसका समापन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.