शोएब अख्तर की स्पीड से गेंदबाजी करते हैं ये 8 गेंदबाज, फिर भी नहीं तोड़ पाए 15 साल पुराना रिकॉर्ड !

Other Sports

क्रिकेट के नियम जिस तेजी से बल्लेबाज के पक्ष में जा रहे हैं एक गेंदबाज के लिए मैदान पर बच पाना उतना ही मुश्किल होता जा रहा है। लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब तेज गेंदबाज के सामने आने से बल्लेबाजों की रूह कांप उठती थी। खासतौर पर पाकिस्तान के फर्राटा गेंदबाजों की तो बात ही कुछ और थी।

अब बात जब तेज गेंदबाजों की हो रही है तो भला पाकिस्तान की शान रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर शोएब अख्तर को भला कैसे भूल सकते हैं। बुलेट ट्रेन की स्पीड से गेंद फेंकने वाले शोएब अख्तर के नाम सबसे तेज गेंद फेंकने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। अख्तर ने साल 2003 के विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ 161.3 प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी।

15 साल बीत जाने के बाद भी आज तक कोई गेंदबाज अख्तर के इस रिकॉर्ड को अपने नाम नहीं कर पाया है। हालांकि कई गेंदबाजों ने एड़ी-चोटी का जोर लगाकार इसे तोड़ने का पूरा प्रयास किया था, लेकिन किसी को कामयाबी नहीं मिली।

ब्रेट ली, शॉन टैट, लसिथ मलिंगा, मिचेल स्टार्क, शेन बॉन्ड, डेन स्टेन और मिचेल जॉनसन जैसे सूरमा रिकॉर्ड के करीब तो पहुंचे, लेकिन तोड़ नहीं पाए। करीब डेढ़ दशक बीत जाने के बाद कुछ खिलाड़ी और निकलकर सामने आए हैं जो इस तूफानी गेंदबाज का रिकॉर्ड तोड़ आगे निकल सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया का 23 वर्षीय यह फास्ट बॉलर थोड़ा और प्रयास कर अख्तर के इस रिकॉर्ड पर अपने नाम का झंडा गाड़ सकता है। न्यूजीलैंड के खिलाफ साल 2018 में ही बिली ने 151.38 की स्पीड से गेंद फेंकी थी।

तेज गेंद फेंकने के मामले में इस कीवी गेंदबाज का भी कोई तोड़ नहीं है। 40 वनडे और 19 टी-20 मैचों का अनुभव रखने वाले एडम मिलने ने कैरीबियाई टीम के खिलाफ 153.2 म से गेंद फेंकी थी।

शोएब अख्तर का रिकॉर्ड तोड़ने वालों में पैट कमिंस का नाम भी शुमार है। पैट कमिंस 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद फेंक चुके हैं। इसके अलावा इनकी लाइन-लेंथ भी काफी शानदार है।

आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले जोफ्रा आर्चर बेशक एक कैरीबियाई खिलाड़ी हैं, लेकिन उम्मीद की जा रही है कि वह आगामी विश्व कप में इंग्लैंड के लिए खेलते नजर आएंगे। जोफ्रा 152.39 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद डाल चुके हैं।

दक्षिण अफ्रीकी टीम के यंग ब्लड कागिसो रबाडा से भी उम्मीद की जा सकती है कि वह अख्तर का रिकॉर्ड तोड़ दें। यह 23 वर्षीय गेंदबाज लगातार 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद फेंक सकता है।

लंबे समय तक दुनिया के नंबर एक गेंदबाज बने रहे मिचेल स्टार्क से भी उम्मीद की जा सकती है कि वह अख्तर का रिकॉर्ड तोड़ दें। स्टार्क 160.4 किलोमीट प्रतिघंटे की रफ्ता से गेंद फेंक चुके हैं। यह टेस्ट क्रिकेट में अब तक सबसे तेज फेंकी हुई गेंद थी जो उन्होंने रॉस टेलर को डाली थी।

इसके अलावा कुछ भारतीय गेंदबाजों से भी अख्तर के रिकॉर्ड को ध्वस्त करने की उम्मीद की जा सकती है। अंडर-19 विश्व कप विजेता टीम के हिस्सा रहे नागरकोटी लगातार 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद फेंक सकते हैं।

कमलेश नागरकोटी के अलावा इस लिस्ट में शिवम मावी का भी नाम है। आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए गेंदबाजी की कमान संभालने वाले शिवम मावी भी लगातार 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गेंद फेंक सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.