पीढ़ियों को सीख देगी निकिता ढौंढियाल की कहानी, सेना की वर्दी पहनेंगी शहीद मेजर विभूति की पत्नी

जानकारी

Patna: जब भावों को एक गतिशील दिशा में केंद्रित कर दिया जाए तो उसके परिणाम पूरी दुनिया के सामने मिसाल बन जाते हैं। ऐसी ही मिसाल बनने जा रही हैं पुलवामा आतंकी मुठभेड़ में शहीद हुए वीर सपूत मेजर विभूति शंकर ढौंढियाल की पत्नी निकिती ढौंढियाल। सिर्फ 29 मई तक का इंतजार है, फिर अपने पति के सैन्य सफर को दोबारा शुरू करने की जिम्मेदारी निकिता के कंधों पर होगी।

देहरादून स्थित डंगवाल मार्ग निवासी मेजर विभूति शंकर ढौंढियाल दो साल पहले जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। खुद उनकी पत्नी निकिता ढौंढियाल जो कि, एमएनसी में काम करती थीं, वह पूरी तरह से टूट गई। लेकिन उन्होंने ना सिर्फ खुद को और परिवार को संभाला बल्कि ऐसा फैसला किया कि सुनकर ही आंखों में आसूं आ जाएं।

निकिता ढौंढियाल ने अपने पति मेजर विभूति की वीरता से अभिभूत होकर उनकी परंपरा को आगे बढ़ाने का फैसला किया। उन्होंने देशसेवा करने का फैसला किया। मजबूत व्यक्तित्व की धनी निकिता ने सैन्य वर्दी पहनने के लिए मन बनाया तो हर प्रदेशवासी की छाती चौड़ी हो गई थी। बहरहाल निकिता इस वक्त ओटीए (ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी), चेन्नई में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहीं हैं।

दरअसल आगामी 29 मई को निकिता की ट्रेनिंग पूरी हो रही है। इसके बाद उनका देशसेवा करने का सपना कुछ हद तक साकार होगा। इससे बढ़िया श्रद्धांजलि भी मेजर विभूति को कुछ नहीं होगी। स्वजन लेफ्टिनेंट कर्नल विकास नौटियाल ने जानकारी दी कि सब खुशी में शामिल होना चाहते हैं लेकिन कोरोना की वजह से वजह से निकिता के अभिभावक ही परेड में जा पाएंगे।

जानकारी के मुताबिक पासिंग आउट के बाद वह 21 दिन की छुट्टी पर आएंगी। यदि दून में हालात ठीक रहे तो इस दौरान वे यहां भी आएंगी। लिहाजा पुरे उत्तराखंड में निकिता की वीरता के चर्चे हो रहे हैं। बता दें निकिता से पहले भी चंद्रबनी के शहीद शिशिर मल्ल की पत्नी संगीता और नींबूवाला के शहीद अमित शर्मा की पत्नी प्रिया सेमवाल सेना की वर्दी पहन कर मिसाल कायम कर चुकी हैं। जबकि हर्रावाला निवासी शहीद दीपक नैनवाल की पत्नी ज्योति अभी ओटीए में प्रशिक्षण ले रही है हैं।

Source: Haldwanilive.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.