वैज्ञानिको ने भी माने मंदिर जाने के फायदे, कहा-अच्छी सेहत और लंबी उम्र चाहिए तो रोज जाएं मंदिर

आस्था

पटना: मंदिर जाना आपको मानसिक शांति ही नहीं बल्कि शारीरिक लाभ भी देता है। शोध में यह बात सामने आई है कि धार्मिक गतिविधियों में हिस्सा लेने वालों का स्वास्थ्य बेहतर रहता है और उनकी उम्र भी बढ़ जाती है। इसके पीछे कारण यह है कि ऐसे स्थानों पर मनुष्य को सुकून मिलता है और उसका तनाव कम हो जाता है।अमेरिका की वांडरबिल्ट यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने इस संबंध में शोध किया है।

इसमें पाया गया कि 40 से 65 की उम्र के ऐसे लोग जो मंदिर, मस्जिद, चर्च या अन्य धार्मिक स्थलों पर जाते हैं, उनमें असमय मौत का खतरा 55 फीसदी तक कम हो जाता है। शोधकर्ता मेरिनो ब्रूस ने कहा, “नतीजे इस बात का समर्थन करते हैं कि आस्था का तनावमुक्त रहने और लंबी उम्र से संबंध है। ऐसे स्थान जहां आपको आस्था का अनुभव होता है, आपकी सेहत के लिए अच्छे होते हैं।”

अध्ययन के दौरान विभिन्न धर्म और समुदाय के 5,449 लोगों को शामिल किया गया। इनमें से 64 फीसदी लोग रोजाना पूजा-पाठ करते थे। सभी की सेहत को ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रॉल-एचडीएल स्तर जैसे स्वास्थ्य के विभिन्न पैमानों पर जांचा गया।

नतीजों में पाया गया कि नियमित तौर पर धार्मिक गतिविधियों से जुड़े रहने वाले लोगों में तनाव कम रहता है। अध्ययन में यह भी पाया गया कि पूजा-पाठ का सकारात्मक असर सभी शैक्षणिक और सामाजिक वर्ग के लोगों पर होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.