Patna: पढ़ेगा भारत तभी तो बढ़ेगा भारत। राजस्थान के कोटपूतली के एक 61 वर्षीय डॉक्टर ने गांव की लड़कियों की पढ़ाई में इतनी बड़ी मदद की है जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही है। दरअसल, उन्होंने देखा कि गांव में परिवहन की सुविधा नहीं होने के कारण लड़कियों को पैदल ही स्कूल-कॉलेज जाना पड़ता है जिसके बाद उन्होंने एक बस खरीदकर उनकी समस्या ही सुलझा दी।

गांव की लड़कियों के लिए खरीदी बस

आईएएस ऑफिसर अवनीष शरण ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक तस्वीर शेयर की है जिसमें एक बस में स्कूल-कॉलेज जाने वाली लड़कियां चढ़ रही हैं और बस के आगे एक शख्स खड़े हैं। उन्होंने तस्वीर के साथ कैप्शन में लिखा- “कोटपुतली राजस्थान के 61 वर्षीय डॉ. आरपी यादव ने महसूस किया कि उनके गांव और आसपास की लड़कियों को पब्लिक ट्रांसपोर्ट के अभाव में कई कि.मी. पैदल चलकर स्कूल-कॉलेज जाना पड़ता था। यह देखकर उन्होंने अपने प्रॉविडेंट फंड से 19 लाख रुपए निकाले और लड़कियों को उनकी खुद की एक बस खरीद दी।”

लोगों ने की सराहना

उनके इस पोस्ट पर आईपीएस आरके विज ने भी प्रतिक्रिया दी है और लिखा है- ‘नमन है ऐसी शख्सियत को’। खबरों के अनुसार, यह बात सबसे पहले 2017 में सामने आई थी लेकिन आईपीएस के फिर शेयर करने के बाद सोशल मीडिया पर फिर चर्चित हो गई है। साथ ही, लोग भी इस पोस्ट पर रिएक्ट कर रहे हैं और छात्रों को पढ़ने में मदद करने के लिए डॉक्टर की सराहना कर रहे हैं। 

Source: Republic Bharat

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here