पुलिस-पब्लिक वाट्सएप ग्रुप वाला बिहार बना पहला राज्य, इस तरह कर सकते है आप भी ग्रुप ज्वाइन

खबरें बिहार की

पटना: सोशल मिडिया प्लेटफॉम पर अन्य राज्यों को पछाड़ कर बिहार की पुलिस जनता और खुद के बीच नया संवाद कायम करने जा रही है। व्हाट्सएप पर 1460 ग्रुप को बिहार पुलिस 30 अगस्त तक तैयार कर पूरे राज्य मे पब्लिक रिलेशन का खाका तैयार कर लेगी, जिसके जरिए सोशल मीडिया पर अफवाह और आपत्तिजनक सूचनाओं पर रोक लगाई जा सकेंगी।

साईबर सेनानी बनेगी जनता और पुलिस के बीच की कड़ी

बिहार के डीजीपी केएस द्विवेदी ने इसको ले महकमे में आदेश जारी कर दिया, पूरे ग्रुप का ढांचा जनप्रतिनिधियों और आम नागरिकों को जोर कर तैयार किया जायेगा। पुलिस द्वारा चलाये जाने वाले ग्रुप को साईबर सेनानी के नाम से संचालित किया जायेगा। पूरी ग्रुप आपसी सूचना तंत्र पर चलेगा, जिसमे पुलिस और उस क्षेत्र के जिम्मेदार नागरिक सूचनाएं आपस मे साझा कर सकेंगे।

ऐसे बन सकते है मेंम्बर

अभी प्राप्त जानकारी अनुसार साइबर सेनानी समूह से जुड़ने के लिए लोगों को जिला प्रशासन को आवेदन देना होगा, यह आवेदन डीएसपी, एसपी और उस क्षेत्र के थानेदार को दिया जा सकेगा। आवेदन के तहत जुड़ने वाले की सारी सूचना को रिकॉर्ड तैयार कर, थाना स्तर से इसकी जांच कर एसपी को अनुशंसा भेजी जाएगी। एसपी से स्वीकृति होने पर आवेदन करने वाले को साईबर सेनानी वाट्सएप ग्रुप से जोड़ा जाएगा।

दरभंगा मे हो चुका सोशल मिडिया सेल का हाल मे गठन

दरभंगा पुलिस द्वारा हाल मे ही सोशल मीडिया सेल का गठन किया गया है। इस सेल के लिए दरभंगा पुलिस ने जिले के मोबाईल धारकों की सूचना स्कैन कर डेटाबेस तैयार किया गया हैं, इस डेटाबेस तक सोशल मिडिया सेल की हर समय पूरी पहुँच रहेगी। आपत्तिजनक मैसेज फैलाने वालो लोगों की सूचना पल भर में सोशल मिडिया सेल डेटाबेस से निकाल, पुलिस उन पर सीधी कार्यवाही करेंगी। बिहार में दरभंगा पहला बिहार का एकमात्र ऐसा जिला है, जिस सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल होने का गौरव प्राप्त है।

Source: Nav Bihar Patrika

Leave a Reply

Your email address will not be published.