पिता ऑटो चलाते हैं, मां ने फ़ीस भरने के लिए गहने बेचे और बेटी मेहनत से बिहार बोर्ड की टॉपर बनी

खबरें बिहार की

Patna: बिहार में इंटरमीडियट का रिजल्ट (Bihar Board 12th Result 2021) आ गया है. इन नतीजों की सबसे बड़ी बात ये रही कि पास होने वाले बच्चों मेंलड़कियों ने लड़कों को मात दे दी. बोर्ड के नतीजे आने के बाद से ही चौथे नंबर में पर टॉप करने वाली कल्पना कुमारी के घर बधाई देने वालों का तांता लग गया है. 

एक ऑटोचालक की बेटी, कल्पना कुमार बिहार नेपाल सीमा के रक्‍सौल नगर परिसद वार्ड 22 के शिवपुरी मुहल्ला में एक टूटे-फूटे घर में रहती है. वह अपने भाई-बहन में सबसे छोटी है, घर में सबसे बड़ा भाई है जो एयरफोर्स की तैयारी कर रहा है. बहन अर्चना कुमारी एवं कल्पना दोनों एक साथ पढ़ाई कर रही है. 

कल्पना के माता-पिता ज़्यादा पढ़े-लिखे नहीं हैं. वो किसी तरह किराए के ऑटो से घर चला रहे हैं. इस लिहाज़ से कल्पना की सफ़लता और महत्वपूर्ण हो जाती है. बच्चों को पढ़ाने के लिए कल्पना की मां ने अपने गहने तक बेच दिए, ताकि उनकी फ़ीस दे सकें. 

आज तक की रिपोर्ट के अनुसार, कल्पना ग्रेजुएशन के बाद सिविल सेवाओं की तैयारी करना चाहती है. इस परिवार ने जिस तरह गरीबी से उठ कर अपनी बेटियों को पढ़ाया, वो अपने-आप में काबिले-तारीफ़ है. 

Source: Indiatimes Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *