ये हैं बिहार की जनता द्वारा चुने गए नेता, सबकुछ भूल बन गए हैं गौ सेवक, गाय और बछड़ों. की….

खबरें बिहार की

मीडिया में खबर चल रही थी कि तेजप्रताप यादव राजनीतिक करियर में प्रगति की कामना के लिए पंडितों की सलाह पर तीन दिन का निर्जल व्रत करने के लिए वृंदावन आए हैं. इस पर उन्होंने कहा कि ‘भगवान के घर आने वाले सब बराबर होते हैं. यहां सभी भक्त होते हैं, बड़े-छोटे का कोई भेद नहीं होता।’

विदित हो कि तेजप्रताप को बाँसुरी बजाने का शौक है इसी साल में उनकी तस्वीरें खूब वायरल हुई थीं जिसमें तेज प्रताप अपने गौशाला में बांसुरी बजाते नजर आ रहे थे. उनके इस रूप के दीवाने खुद पीएम नरेंद्र मोदी हुए थे और पटना आगमन पर उनकी तारीफ भी की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *