तेजस्वी के खिलाफ मुसलमानों को भड़काने लगे प्रशांत किशोर: बीजेपी को हराने के लिए वोट नहीं करें

खबरें बिहार की जानकारी राजनीति

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर जनसुराज पदयात्रा के दौरान नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोल रहे हैं। इस दौरान पीके मुसलमानों को डिप्टी सीएम तेजस्वी की पार्टी आरजेडी के खिलाफ भड़काने में लगे हैं। वे मुस्लिमों से आरजेडी और महागठबंधन के पक्ष में वोट नहीं करने की अपील कर रहे हैं। प्रशांत किशोर ने मुसलमानों से कहा कि वे बीजेपी को हराने के लिए किसी अन्य पार्टी को वोट न दें। इससे उनका कोई फायदा नहीं होने वाला है। जिसे आप वोट करते हैं वो भी बीजेपी जैसी ही है। पीके का सीधा इशारा तेजस्वी यादव की पार्टी आरजेडी की ओर है।

प्रशांत किशोर की पदयात्रा अभी पश्चिमी चंपारण जिले में है। मंगलवार को एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने मुसलमानों से सोच समझकर वोट करने की अपील की। पीके ने कहा कि लोगों ने मुसलमानों के विषय में धारणा बना ली है कि ये किसी के पक्ष में वोट नहीं करते। बल्कि आखिरी तक देखते हैं और जो पार्टी बीजेपी को हराती है उसे अपना वोट देते हैं। मगर ये गलत आचरण है। मुसलमान जिसे (बीजेपी) हरा रहे हैं वो भी उनके साथ नहीं है और जिसे जिता (आरजेडी) रहे वो भी उनके साथ नहीं है।

प्रशांत किशोर ने नीतीश और तेजस्वी की महागठबंधन सरकार को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि बिहार में महागठबंधन की सरकार बनी, उसमें सबसे ज्यादा वोट मुसलमानों का है। आप देख लीजिए कि आपको इस सरकार से क्या मिला, खुद ही समझ लीजिए। यह तरीका ठीक नहीं है।

पीके ने मुसलमानों से कहा कि बहुसंख्यक समाज आपका साथी है। इस प्रोपेगेंडा में मत फंसिए कि सारा बहुसंख्यक समाज ही भाजपाई हो गया है। देश में 80 फीसदी हिंदू हैं और बीजेपी को महज 38 फीसदी वोट मिलते हैं। यानी कि आधे से ज्यादा हिंदू बीजेपी को वोट नहीं देते। इसलिए हिंदू-मुस्लिम एकजुट होकर, अगड़ा-पिछड़ा सब भूलकर खड़े रहेंगे, तभी कुछ होगा। वर्ना कुछ नहीं होने वाला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.