Tejasvi Yadav

कभी Tejasvi Yadav को माना जाता था फेलियर, आज उनमें लोग देख रहे आक्रामक युवा नेता की छवि

कही-सुनी

बिहार के दिग्गज राजनीतिज्ञ राजद सुप्रीमो लालू यादव के छोटे बेटे और राज्य के उपमुख्यमंत्री Tejasvi Yadav को कभी फेलियर कहा जाता था। लेकिन जिस तरह राज्य में राजनीतिक गोटियों ने अपनी चाल बदली, उसने एक नए युवा नेता के बनने की राह आसान कर दी।

आज तेजस्वी की छवि एक ऐसे आक्रामक नेता की बन गई है जिसने नीतीश कुमार के माथे पर भी बल ला दिए हैं। बिहार विधानसभा में नीतीश सरकार के विश्वास मत हासिल करने के पहले युवा नेता Tejasvi Yadav ने जिस लहजे में भाषण दिया और नीतीश कुमार पर जितने तीखे सवाल किए उसने राजनीति में एक नए युग के शुरुआत होने की घोषणा कर दी।

अचानक राजद नेता लालू यादव की राजनीतिक विरासत को संभालने के लिए तेजस्वी को एक योग्य उम्मीदवार के रूप में देखा जाने लगा। उसके बाद लगातार तेजस्वी ने इस उम्मीद को लगातार बरकरार रखा है।




आज वो चंपारण के मोतिहारी से ‘जनादेश अपमान यात्रा’ की शुरुआत कर चुके हैं। Tejasvi Yadav ने कलेक्ट्रेट मैदान में बापू की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और प्रतिमा के नीचे धरने पर बैठे। यहां बापू से नीतीश को नहीं पहचान पाने के चलते माफी मांगी जा रही है।

इस मौके पर हजारों की संख्या में आरजेडी के समर्थक जुटे हुए हैं। तेजस्वी की दो दिनों की पहले चरण की इस यात्रा में राजद के तमाम बड़े नेता मौजूद हैं। बापू की प्रतिमा स्थल पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने के बाद तेजस्वी मोतिहारी से करीब 20 किलोमीटर दूर माधोपुर में जानकी देवी प्रोजेक्ट स्कूल मैदान में जनसभा को संबोधित करेंगे।




शाम चार बजे वहां से वह शिवहर के लिए प्रस्थान करेंगे। शिवहर में रात्रि विश्राम करेंगे। गुरुवार को तेजस्वी तीन अलग-अलग क्षेत्रों में जनसभा करेंगे।

पहली सभा सुबह 10 बजे से शिवहर कलेक्ट्रेट मैदान में होगी। सीतामढ़ी के गोयनका कॉलेज मैदान में एक बजे से सभा करेंगे। शाम चार बजे छपरा के नीमापुर स्थित महंत राम किशोर दास उच्च विद्यालय मैदान सभा कर पटना लौटेंगे।




Tejasvi Yadav




Tejasvi Yadav




Tejasvi Yadav




Tejasvi Yadav



Leave a Reply

Your email address will not be published.