तेजस्वी यादव बोले- भाजपा के ही MLA- मंत्री कह रहे राज्य में अपराधी और पुलिस बेकाबू हैं

खबरें बिहार की

पटना: अभी विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के बीच विवाद थमा भी नहीं कि तेजस्वी ने बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर सोशल मीडिया पर भाजपा और जदयू दोनों को निशाने पर ले लिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर कहा है कि बिहार में भाजपा समर्थित अपराधियों का महाजंगलराज और जदयू संरक्षित गुंडों का दानवराज है।

दो-दो मुख्यमंत्री होने के बावजूद भाजपा के ही विधायक और मंत्री कह रहे हैं कि राज्य में अपराधी और पुलिस बेकाबू है। तेजस्वी यादव ने सवाल उठाया है कि दोषी कौन है? उन्होंने कहा है कि सवालों से भागिए मत, जनता को जवाब दीजिए।…जो जंगलराज के नाम से डरा रहे थे उनसे भी पूछ लीजिए।

बता दें कि दरभंगा में 7 करोड़ की लूट और राज्य के अन्य हिस्सों में हाल के दिनों में हुईं हत्या तथा अपराध की अन्य घटनाओं के बाद सरकार लगातार घिरती जा रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद मिश्रा ने मांग की है कि अब बिहार को पूर्णकालिक गृह मंत्री की जरूरत है। अभी गृह विभाग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जिम्मे ही है। कुछ दिन पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने अपराध बढ़ने पर चिंता जाहिर की थी। दरभंगा से भाजपा विधायक ने भी दरभंगा में हुई 7 करोड़ की लूट की घटना के बाद सोशल मीडिया पर पुलिस प्रशासन को निशाने पर लिया था। अब नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कड़े शब्दों का इस्तेमाल किया है। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने भी कहा है कि बिहार में अपराधियों का आत्मविश्वास सबसे उच्चतम स्तर और मुख्यमंत्री का सबसे निम्नतम स्तर पर है।

इस बीच, जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को अबोध बालक कहकर संबोधित किया है। उन्होंने पटना हाईकोर्ट की 17 जुलाई 97 की टिप्पणी सोशल मीडिया पर पोस्ट की है और लिखा है- ‘चरवाहा विद्यालय से सियासी शिक्षा और अपने सजायाफ्ता 420 पिता से राजनीतिक दीक्षा प्राप्त एक अबोध बालक जंगलराज और मंगलराज का फर्क क्या समझ पाएगा? अरे, जिसे जनता आतंक राज कहती थी उसे जंगलराज की संज्ञा किसी और ने नहीं बल्कि पटना हाईकोर्ट ने पहली बार 17 जुलाई 97 को दी थी।’

जदयू-भाजपा की सरकार बनने के बाद से विपक्ष लगातार अपराध पर सरकार को घेरने में लगा है। सदन में भी तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को अपराध पर घेरा था और जिसके बाद नीतीश कुमार का गुस्सा फूट पड़ा था। उसके बाद लगातार सोशल मीडिया पर तेजस्वी यादव सरकार को इस मुद्दे पर घेर रहे हैं। रोजगार के सवाल पर सरकार को घेरने वाले तेजस्वी अब अपराध पर सरकार को निशाने पर लिए हुए हैं। कांग्रेस ने तो फुल टाइम गृह मंत्री की मांग ही कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.