तेजस्वी के ठंडा कर देंगे वाली धमकी पर नित्यानंद राय बोले- दोनों भैंस दूहते हैं, देखते हैं कौन पहले ठंडा होता है

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के ठंडा कर देने वाली धमकी पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने पलटवार किया है। नित्यानंद राय ने कहा कि आओ दोनों लोग भैंस का दूध निकालते हैं। जो जल्दी भैंस दूहेगा वो जीत जाएगा और जो दूध दूहते-दूहते ठंडा हो जाएगा वो हार जाएगा। तेजस्वी को पता नहीं कि हम किसान के बेटे हैं। उनसे कौन मुंह लगाए।

केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने गुरुवार को एक सभा को संबोधित करते हुए तेजस्वी को चुनौती दी। उन्होंने कहा, ‘दोनों भैंस का दूध दूहते हैं, पता चल जाएगा पहले कौन ठंडा होगा। हम किसान के बेटे हैं। जरूरत पड़ेगी को तेजस्वी से पटना पूछने चलेंगे कि वे ठंडा करेंगे या भैंस उन्हें ठंडा कर देगी। गाय-भैंस का दूध निकालना कठिन काम है। जो ज्यादा दूध दूहेगा वो जीत जाएगा, जो कम दूहेगा वो ठंडा हो जाएगा। हम वैसे ही ठंडा आदमी है। उनसे कौन मुंह लगाए। वो क्या देश की सीमा की सुरक्षा कर रहे हैं क्या। नित्यानंद राय प्रधानमंत्री से कहकर अपने क्षेत्र में 87 करोड़ रुपये किसानों के खाते में ले गए। जबकि तेजस्वी यादव 87 करोड़ अपने घर ले गए, वो भी जनता को लूटकर।’

बीजेपी विधायक ने भी बोला हमला

बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने भी इस मुद्दे पर तेजस्वी यादव पर हमला बोला है। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि तेजस्वी यादव जब प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे तब उन्हें इतनी घबराहट क्यों थी? वे सबको धमकी दे रहे थे। यही तो राज की बात है। दिल की बात जुबां पर आ ही जाती है। वे घबराए हुए हैं, डरे हुए हैं। ठंडा कौन होगा वो समय बताएगा।

तेजस्वी ने क्या कहा था?

बता दें कि तेजस्वी यादव ने आरजेडी नेताओं के ठिकानों पर हुई सीबीआई रेड को लेकर गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने बिना किसी का नाम लिए कहा कि एक केंद्रीय मंत्री जिनका सीएम बनने का सपना टूटा है, यहां-वहां कर रहे हैं, वो लाइन पर आ जाएं नहीं तो ठंडा कर देंगे। बिहार के सांसद जो केंद्र में मंत्री हैं वो बिहार में महाराष्ट्र वाला खेला करना चाह रहे थे, वो ज्यादा ख्वाब न देखें। दिल्ली वाले नहीं बचाएंगे। जो लोग खेला करना चाहते हैं उन्हें इतनी समझ होनी चाहिए कि ये बिहार है। तेजस्वी का ये हमला नित्यानंद राय पर था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.