स्वेटर पहनकर सोते हैं तो आज से ही बदल दीजिए यह आदत, सेहत को पहुंच सकता है नुकसान

जानकारी

कंपकपाने वाली सर्दियां हों तो बिस्तर पर बिना स्वेटर पहने बैठा भी नहीं जाता तो सोना तो दूर की बात लगती है. सोते समय चाहे जितनी भी रजाई मिल जाए लेकिन स्वेटर (Sweater) पहनकर सोने पर ही असली गर्माहट महसूस होती है. हालांकि, स्वास्थ की दृष्टि से यह अच्छा निर्णय नहीं है. स्वेटर पहनकर सोने पर आपको कई तरह की सेहत संबंधी दिक्कतों से दोचार होना पड़ सकता है. आइए जानते हैं इन दिक्कतों के बारे में और यह भी कि इनसे किस तरह बचा जा सकता है.

स्वेटर पहनकर सोने से होने वाली दिक्कतें | Health Problems Due To Sleeping In Sweaters

हो सकती है स्किन एलर्जी 

स्वेटर पहनकर सोने से स्किन जरूरत से ज्यादा ड्राई भी हो सकती है और स्किन से जुड़े कई तरह के इंफेक्शन भी होने लगते हैं. एक्जेमा की दिक्कत भी स्वेटर पहनकर सोने से हो सकती है. एक्जेमा होने पर स्किन पर रूखापन और खुजली (Itching) हो जाती है जिससे बार-बार शरीर को खुजाते रहना पड़ता है. ऐसे में या तो स्वेटर पहनकर ना सोएं और अगर सो रहे हैं तो मॉइश्चराइजर लगाना ना भूलें.

ब्लड प्रेशर हो सकता है कम 

 

स्वेटर पहनकर सोने पर जो दिक्कतें होती हैं उनमें से एक है ब्लड प्रेशर का कम होना. रात में स्वेटर पहनकर सोने पर सामान्य से ज्यादा पसीना निकल सकता है. इसके अलावा, यहां से वहां करवट लेने पर भी पसीना (Sweat) निकलता है. यह मूवमेंट ब्लड प्रेशर कम होने की वजह बनती है.

ब्लड सर्कुलेशन होता है प्रभावित 

 

स्वास्थ्य से जुड़ी एक और समस्या का कारण बनता है स्वेटर पहनकर सोना. स्वेटर अधिकतर मोटे होते हैं जो शरीर से चिपक जाते हैं. अगर आप ऐसे स्वेटर पहनकर सो रहे हैं जो शरीर से चिपके हुए होते हैं और बेहद भारी हैं तो इस तरह के स्वेटर आपके शरीर के रक्त प्रवाह यानी ब्लड सर्कुलेशन को बाधित कर सकते हैं. ऐसे में आपको गर्म लेकिन ऐसे कपड़े पहनकर सोना चाहिए जो हल्के हों और साथ ही ढीले भी हों.

Leave a Reply

Your email address will not be published.