सुशील मोदी पर भड़के शिवानंद तिवारी; ढलान पर है राजनीति, नहीं बने बेचैन आत्मा

खबरें बिहार की जानकारी

आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी ने बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी पर बड़ा हमला किया है।आ उन्होंने कहा है कि सुशील मोदी बेचैन आत्मा नहीं बनें।  अब उनकी राजनीति ढलान पर है इसलिए आराम करें । उन्हें अपच की बीमारी हो गई है।  अगर रोज-रोज कुछ नहीं बोले तो खाना हजम नहीं होता है।  इसीलिए  कुछ ना कुछ बोलते रहते हैं।

शिवानंद तिवारी ने सुशील मोदी को सलाह दी है कि नीतीश कुमार तेजस्वी यादव को सत्ता सौंपेंगे  या नहीं, इसके लिए उन्हें दुबला होने की जरूरत नहीं है

शिवानंद तिवारी का बयान ऐसे समय में आया है जब सुशील मोदी ने मुख्यमंत्री पद को लेकर नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव दोनों पर तंज कसा।  शनिवार को सुशील मोदी ने कहा था कि लालू यादव 2025 से पहले बेटे तेजस्वी यादव को बिहार का मुख्यमंत्री बना लेना चाहते हैं।  लेकिन,  नीतीश कुमार कच्चे खिलाड़ी नहीं हैं।  2024 में अपना सेटिंग होने से पहले वे सीएम पद नहीं छोड़ेंगे।  सुशील मोदी के इस बयान पर हमला बोलते हुए शिवानंद तिवारी ने कहा है कि 50 वर्ष पूर्व बिहार के आंदोलन से शुरू करने वाले सुशील मोदी की राजनीति ढलान पर हैं।

तेजस्वी यादव युवा हैं। नई उम्र के तेजस्वी यादव की राजनीति तो अभी अपने उठान पर है। पद प्रतिष्ठा के लिहाज से अपने पचास वर्षों की राजनीतिक यात्रा में सुशील मोदी ने जो कुछ अब तक हासिल किया है वह सब तो तेजस्वी यादव ने 33-34 वर्ष की उम्र में ही हासिल कर लिया है। मोदी को उनकी चिंता नहीं करनी चाहिए।


शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पत्रकारों ने सवाल किया कि राजद प्रदेश अध्यक्ष ने बयान दिया है कि वर्ष 2023 में आप तेजस्वी यादव को सीएम का पद सौंपेंगे। इस सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि आप क्यों चिंता करते हैं? मुख्यमंत्री शनिवार को मेदांता अस्पताल पहुंचे थे, जहां पर पत्रकारों ने यह सवाल किया था।

मुख्यमंत्री इंदिरा गांधी हृदय संस्थान के निदेशक एवं कॉर्डियोलॉजिस्ट डॉ. सुनील कुमार का कुशलक्षेम जानने जयप्रभा मेदांता अस्पताल पहुंचे थे। अस्पताल में मुख्यमंत्री ने डॉ. सुनील कुमार से उनका हालचाल जाना। डॉ. सुनील के घुटने का प्रत्यारोपण सर्जरी डॉ. राजीव सिन्हा ने किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.