जिंदगी की जंग हारे आईपीएस सुरेन्द्र दास, पांच दिन पहले खा लिया था जहर

जानकारी

पारिवारिक कलह के चलते जहर खाकर खुदकुशी की कोशिश करने वाले एसपी पूर्वी सुरेंद्र दास की आज दोपहर मौत हो गई। उन्होंने 12 बज कर 19 मिनट पर अंतिम सांस ली। एसपी पिछले कई दिनों से जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे थे। डॉक्टरों ने उन्हें बचाने की हर संभव कोशिश की इसके लिए कल उनके वार्ड को ऑपरेशन थियेटर में कनवर्ट करके उसके बायें पैर का ऑपरेशन किया गया था। कल उन्हें देखने प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह भी पहुंचे थे। उनके इलाज के लिए मुंबई से एक डॉक्टरों की टीम लगी थी।

इलाज के लिए मुंबई से आए थे डॉक्टर

उनके उपचार के लिए बुधवार देर रात सवा एक बजे मुंबई के सिद्धि विनायक इंस्टीट्यूट ऑफ क्रिटिकल केयर से डॉ. प्रणव ओझा और डॉ. वेंकट गोयल की टीम रीजेंसी हॉस्पिटल पहुंची थी। यहां उन्होंने डॉ. प्रदीप सहगल और डॉ. आदित्य शुक्ला के नेतृत्व वाली टीम के साथ इलाज की कवायद तेज की। सुरेंद्र दास को एक यूनिट ब्लड चढ़ाया गया। गुर्दे को होने से बचाने के लिए गुरुवार दोपहर बाद डायलिसिस की गई। लेकिन डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बाद भी उन्हें नहीं बचाया नहीं जा सका।

बुधवार को खा लिया था जहर

बुधवार की सुबह उन्होंने कैंट स्थित अपने सरकारी आवास में जहर खा लिया था। सर्वोदय नगर के रिजेंसी अस्पताल में आईपीएस सुरेंद्र जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे हैं। सुसाइड के प्रयास से दो दिन पहले रविवार को वह अपनी पत्नी डॉ. रवीना सिंह के साथ रेव मोती मॉल में ‘स्त्री’ फिल्म देखने गए थे। इस दौरान दोनों की आपस में कोई भी बातचीत नहीं हो रही थी।

जहर पूरे शरीर में फैलने से हो गई थी ज्यादा दिक्कत

एसपी पूर्वी ने सल्फास की हैवी डोज खा ली थी। डॉ. राजेश के मुताबिक जहर का असर पूरे शरीर पर आ चुका था। इसका असर खत्म करने के लिए चार दिन से डॉक्टर प्रयासरत थे। इसके कारण उनके शरीर के सभी अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। जिसके चलते कल डॉक्टर ने परिजनों की लिखित अनुमति के बाद अंतिम रूप से ऑपरेशन किया था। एसपी साहब के बायें पैर में खून का थक्का जम गया था। जिसे ऑपरेशन करके निकाला गया ता लेकिन आज दोपहर खबर आई कि उन्हें बचाया नहीं जा सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *