सुनो बाबू शादी का शुभ मुहूर्त है’, फिर क्या…प्रेमी गुड्डू ने 6 साल बड़ी झारखंड की फूलमनी की भर दी मांग

खबरें बिहार की जानकारी

 इग्लैंड की दुल्हनिया लाकर देवघर में शादी करने की चर्चा का बाजार बांका के चांदन में अभी गर्म ही है कि एक और मामला सामने आया है। शादी-विवाह के शुभ मुहूर्त पर कटोरिया के एक युवक ने झारखंड से अपनी प्रेमिका को लाकर इनारावरण के धर्मशाला में शादी रचाकर पति-पत्नी बन कर जीने मरने की कसमें खा ली हैं। बताया जाता है कि बदलाडीह का 21 साल का गुड्डू यादव कोलकाता में काम करता था। वहीं पर गुमला झारखंड की 27 वर्षीय फूलमनी कुमारी काम करती थी। एक साल पूर्व दोनों में पहली मुलाकात हुई और धीरे-धीरे प्यार के रंग में रंगने लगी।

इसके बाद दोनों ने साथ जीने मरने की कसमें भी खाई। शनिवार को दोनों ने इनारावरण के निजी धर्मशाला में कुछ ग्रामीणों की उपस्थिति में हिंदू रीति से शादी कर पति-पत्नी बन गए। लड़के के पिता होरिल यादव ने कटोरिया थाना को आवेदन देकर इस शादी की जानकारी दिया। इसमें दोनों के बालिग होने और दोनों की सहमति से शादी करने की बात भी कही गई। इसपर उनका कोई आपत्ति नहीं होने की बात भी लिखा है। गुड्डू यादव ने बताया कि उसकी उम्र 21 साल है और उसकी फूलमनी कुमारी 27 की है। लेकिन दोनों के बीच प्यार हो गया तो दोनों ने अपनी मर्जी से शादी कर लिया और अब दोनों जीवन भर साथ-साथ रहेंगे। गुड्डू और फूलमनी में शादी के लिए फोन पर ही बात हुई थी। इस दौरान दोनों ने शुभ मुहूर्त का जिक्र किया और फिर शादी।

गुड्डू और फूलमनी की शादी के बाद इलाके के युवा लगातार चर्चा कर रहे हैं। लोगों की मानें तो प्यार ने उम्र की सीमा तोड़ दी है। स्थानीय रमेश कहते हैं, ‘एक गीत है- न उम्र की हो सीमा, न जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई, तो देखे केवल मन… इस गीत को गुड्डू ने चरितार्थ कर दिया है।’ गुड्डू और फूलमनी की फोटो भी इंटरनेट मीडिया पर साझा की जा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.