सुखाड़ पर नीतीश कुमार का निर्देशः गांव स्तर तक कराएं आकलन, किसानों की सहायता के लिए करें तैयारी

खबरें बिहार की राजनीति

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में अल्प वर्षापात के कारण उत्पन्न स्थिति का हवाई सर्वेक्षण से जायजा लिया। उन्होंने नालंदा, शेखपुरा, लखीसराय जमुई, मुंगेर, बांका, भागलपुर, खगड़िया एवं समस्तीपुर जिले में अल्प वर्षापात के कारण उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के साथ ही अफसरों को निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अल्प वर्षापात के कारण उत्पन्न स्थिति के कारण सभी प्रभावित जिलों के प्रखण्ड, पंचायत एवं गांव स्तर तक शीघ्र सुखाड़ की स्थिति का ठीक से आकलन कराएं। किसानों को सहायता देने के लिए पूरी तैयारी रखें। सीएम ने इन क्षेत्रों में धान की रोपनी के आच्छादन का भी जायजा लिया। सीएम ने हवाई सर्वेक्षण के दौरान गंगा व कोसी नदी के जलस्तर का भी जायजा लिया। सर्वेक्षण के दौरान सीएम के प्रधान सचिव दीपक कुमार, सीएम के प्रधान सचिव डॉ. एस सिद्धार्थ, कृषि विभाग के सचिव एन सरवन कुमार, आपदा सह जल संसाधन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल मौजूद थे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को हवाई सर्वेक्षण के क्रम में मुंगेर एयरपोर्ट पर उतरे। उसके पश्चात डकरा नाला पंप नहर योजना का निरीक्षण किया और इसे पुनर्जीवित करने का अधिकारियों को निर्देश दिया।

डकरा नाला पंप नहर योजना उद्वह सिंचाई योजना है, जिसके अन्तर्गत गंगा नदी एवं डकरा नाला के मिलान बिंदु पर मुंगेर शहर से पांच किलोमीटर दक्षिण दिशा में खगड़ही ग्राम के निकट गंगा नदी में फ्लोटिंग बराज पर पंप की मदद से पानी को लिफ्ट किया जायेगा। इस योजना के फेज-1 के कार्यों के लिये वर्ष 1976-77 में स्वीकृति प्रदान की गयी थी।

मुख्यमंत्री के इस योजना को शुरू कराने के निर्देश से इस क्षेत्र के किसानों को काफी राहत मिलेगी। इस परियोजना के पूर्ण होने से लखीसराय जिला के सूर्यगढ़ा प्रखण्ड एवं मुंगेर जिला के तीन प्रखण्ड मुंगेर सदर, जमालपुर एवं धरहरा प्रखण्ड में 15,222 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई उपलब्ध होगी। कई दशकों से बंद पड़ी इस पुरानी परियोजना के शुरू होने से किसानों को सिंचाई कार्य में काफी सहुलियत होगी और उनका कृषि कार्य बेहतर ढंग से हो सकेगा।

मुख्यमंत्री ने हवाई सर्वेक्षण के दौरान नालंदा जिले के बिंद, सरमेरा, शेखपुरा जिले के बरबीघा, शेखपुरा, चिवड़ा, लखीसराय जिले के रामगढ़ चौक, हलसी, जमुई जिले के सिकंदरा, खैरा, गिद्धौर, लक्ष्मीपुर, मुंगेर जिले के खड़गपुर, धरहरा, जमालपुर, मुंगेर, बांका जिले के शंभुगंज, फुलीडुमर, अमरपुर, भागलपुर जिले के जगदीशपुर, शाहपुर, सुलतानगंज, खगड़िया जिले के परबत्ता, गोगरी, खगड़िया, अलौली तथा समस्तीपुर जिले के हसनगंज, रोसड़ा, विभूतिपुर एवं दलसिंहसराय प्रखण्डों में अल्प वर्षापात के कारण उत्पन्न संभावित सुखाड़ की स्थिति का जायजा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.