सुबह से रात तक राबड़ी आवास से बाहर डटे रहे राजद कार्यकर्ता, सीबीआई टीम के बाहर निकलते ही किया दूर तक पीछा

खबरें बिहार की जानकारी

सीबीआई के छापे के बाद शुक्रवार को दस सर्कुलर रोड स्थित मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास का नजारा पूरी तरह से बदला दिखा। सीबीआई जहां आवास के अंदर कार्रवाई में जुटी रही। वहीं सैकड़ों की संख्या में आरजेडी के नेता, कार्यकर्ता व समर्थक सुबह 6 बजे से लेकर रात करीब साढ़े आठ बजे तक राबड़ी आवास के बाहर डटे रहे। इनमें दर्जनों महिला नेत्रियां भी थीं। सीबीआई की कार्रवाई को लेकर आरजेडी कार्यकर्ताओं में जबरदस्त गुस्सा था।

सुबह 6 से रात साढ़े आठ बजे यानी साढ़े 14 घंटे तक चली कार्रवाई पर सवाल उठा रहे कार्यकर्ताओं का गुस्सा रह-रहकर भड़क रहा था। कार्रवाई बंद करने व सीबीआई को बाहर निकालने की मांग को लेकर नेताओं व कार्यकर्ताओं द्वारा नारेबाजी की जा रही थी। शाम करीब सात बजे कार्यकर्ताओं के सब्र का बांध टूट गया। सीबीआई हाय-हाय की नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ताओं ने राबड़ी आवास के गेट को धक्का देकर खोलने की कोशिश की, लेकिन वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों व आरजेडी नेताओं ने उन्हें शांत कराया।

बाहर निकलने पर दूर तक किया सीबीआई का पीछा

हंगामे व नारेबाजी के बीच शाम करीब 6.45 बजे सीबीआई के एक अफसर राबड़ी देवी के आवास से बाहर आये। 7.14 बजे सीबीआई के तीन अधिकारी फिर बाहर निकले। नाराज कार्यकर्ताओं ने उनका दूर तक पीछा किया और नारेबाजी भी की। नाराज कार्यकर्ताओं और मीडिया कर्मियों द्वारा दागे जा रहे सवालों पर कुछ न बोलते हुए सीबीआई के अधिकारी गाड़ी में बैठकर चल दिए।

पुलिस ने सीबीआई अफसरों को घरा बनाकर गाड़ी में बैठाया, जबकि चार सदस्यीय टीम राबड़ी आवास के अंदर कार्रवाई में डटी हुई थी। इन अधिकारियों के बाहर आने की प्रतीक्षा में आरजेडी कार्यकर्ता भी भारी संख्या में डटे रहे। रात करीब साढ़े आठ बजे राबड़ी आवास के दूसरे गेट से सीबीआई के चार अफसर सुरक्षाकर्मियों के घेरे में बाहर निकले। यह देखकर कार्यकर्ताओं ने उन्हें घेरे लिया लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने सीबीआई असफरों को सुरक्षित गाड़ी में बैठा दिया और वे रवाना हो गए। धक्का-मुक्की के बीच सीबीआई की सरकारी गाड़ी पर मुक्का भी मारा गया।

छावनी में तब्दील रहा दस सर्कुलर रोड

आरजेडी कार्यकर्ताओं के गुस्से को देखते हुए सकुर्लर रोड को पूरी तरह से छावनी में तब्दील कर दिया गया। एसपी सिटी मध्य राहुल अंबरीश, एएसपी सचिवालय काम्या मिश्रा के नेतृत्व में सचिवालय, शास्त्रीनगर, हवाई अड्डा, गर्दनीबाग समेत कई थानों की पुलिस, आरएएफ व सैप के जवान सीबीआई की कार्रवाई खत्म होने तक डटे रहे।

सीबीआई के रवाना होने पर पुलिस ने ली राहत की सांस

आरजेडी कार्यकर्ताओं के जबरदस्त गुस्से को लेकर सुरक्षाकर्मी सकते में थे। कई बार आरजेडी कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच जोरआजमाइश का दौर भी चला, लेकिन पुलिसकर्मियों ने धैर्य बनाए रखा। रात करीब साढ़े आठ बजे सीबीआई की कार्रवाई खत्म हुई और सीबीआई अफसर सुरक्षित अपने ठिकानों के लिए रवाना हो गए, तब सुरक्षाकर्मियों ने राहत की सांस ली। इसके बाद राबड़ी देवी के आवास के बाहर डटे कार्यकर्ता व नेता भी अपने-अपने घरों के लिए रवाना हो गए

Leave a Reply

Your email address will not be published.