सिग्नल लाल कर रोक दी अजीमाबाद Exp, पीछे से आ रही पटना-कुर्ला Exp की एस्कार्ट पार्टी देख भागे अपराधी

खबरें बिहार की

पटना-मुगलसराय रेलखंड पर अपराधियों का मनोबल दिन-प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है। गुरुवार की सुबह करीब दो बजे पटना-मुगलसराय रेलखंड पर लुटेरों ने लूट की घटना को अंजाम दिया। लुटेरों ने दो ट्रेनों को निशाना बनाया। हालांकि, लुटेरे एक ट्रेन में ही लूटपाट करने में सफल रहे। एक ट्रेन में एस्कार्ट पार्टी की तत्परता से लूट की घटना को अंजाम नहीं पाये। बताया जाता है कि लुटेरों ने घटना को अंजाम देने के लिए तार काट कर सिग्नल लाल कर दिया था। हालांकि, पुलिस लूट की घटना से इनकार कर रही है। वहीं, सिग्नल लाल होने से करीब दो घंटे तक परिचालन बाधित रहा।

गुरुवार की सुबह करीब दो बजे डुमरांव स्टेशन के समीप कुछ अपराधियों ने ट्रेन को लूटने के लिए अप लाइन का सिग्नल लाल कर दिया। जैसे ही अजीमाबाद एक्सप्रेस डुमरांव स्टेशन के समीप पहुंची, तो ड्राइवर ने देखा कि सिग्नल लाल है। उसने ट्रेन रोक दी। इसके बाद ड्राइवर ने सिग्नल लाल होने की सूचना कंट्रोल को दी। इसी बीच, कुछ अपराधी ट्रेन में घुस कर यात्रियों का सामान लूट लिया। वहीं, मेमो देकर अजीमाबाद एक्सप्रेस को आगे रवाना किया गया। ट्रेन के खुलते ही अपराधी ट्रेन से नीचे उतर गये। कुछ देर बाद ही पीछे आ रही पटना-कुर्ला एक्सप्रेस के ड्राइवर ने सिग्नल लाल देखा और ट्रेन को रोक दिया। इसी बीच, ट्रेन को रुकता देख ट्रेन में ड्यूटी कर रहे एस्कार्ट पार्टी ट्रेन से नीचे उतरे, तो देखा कि कुछ अपराधी ट्रेन में चढ़ रहे हैं। एस्कार्ट पार्टी के जवानों ने सभी अपराधियों का पीछा किया। पुलिस को पीछे देख अपराधियों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू किया और भाग निकले। इसके बाद एस्कार्ट पार्टी ने इसकी सूचना बक्सर आरपीएफ पोस्ट और दानापुर कंट्रोल को दी। सूचना मिलते ही आरपीएफ के जवानों ने अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी शुरू कर दी। वहीं, अधिकारियों ने करीब दो घंटे बाद सिग्नल को ठीक किया। इसके बाद परिचालन सुचारू रूप से चालू किया गया।


आरपीएफ सीनियर कमांडेंट चंद्रमोहन मिश्रा ने बताया कि ट्रेन में लूट की घटना को अंजाम देने के लिए सिग्नल लाल किया गया था। अभी तक किसी यात्री ने लूट का मामला दर्ज नहीं कराया है। सूचना मिली है कि एक यात्री का मोबाइल चोरी हो गया है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर आसपास के इलाके में छापेमारी की जा रही है। बहुत जल्द सभी को गिरफ्तार कर लिया जायेगा। मालूम हो कि सोमवार रात भी कुछ शरारती तत्वों ने बरुना स्टेशन के समीप ट्रेन से उतरने के लिए अपने साथियों के सहयोग से सिग्नल का तार काट दिया था। इस कारण करीब तीन घंटे तक परिचालन बाधित रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *