पाकिस्तान के विज्ञान मंत्री फवाद चौधरी ने मंगलवार को कहा कि भारत ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को पाक दौरे से नाम वापस लेने के लिए धमकाया है। भारत ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से बाहर करने की धमकी दी है। दरअसल, श्रीलंका टीम को 27 सितंबर से 9 अक्टूबर तक पाकिस्तान में तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलना है। इससे पहले ही सोमवार को श्रीलंका के 10 खिलाड़ियों ने पाक दौरे से अपना नाम वापस ले लिया।

इस पर फवाद ने ट्वीट किया, ‘‘खेल कमेंटेटर्स ने उन्हें यह बताया है कि भारत ने श्रीलंका के खिलाड़ियों को धमकी दी कि यदि वह पाकिस्तान जाने से इंकार नहीं करते हैं तो उन्हें आईपीएल से बाहर कर दिया जाएगा। यह वाकई हल्का तरीका है। खेल से लेकर अंतरिक्ष तक के लिए कट्टर राष्ट्रवाद कुछ ऐसा है, जिसकी हमें आलोचना करनी चाहिए। भारत के खेल अधिकारियों का ओछा रवैया।’’

मलिंगा समेत इन 10 खिलाड़ियों ने नाम वापस लिया

श्रीलंका की वनडे टीम के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने, टी-20 कप्तान लसिथ मलिंगा, पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज, निरोशन डिकवेला, कुसल परेरा, धनंजय डिसिल्वा, अकिला धनंजय, सुरंगा लकमल, थिसारा परेरा और दिनेश चंडीमल ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए पाकिस्तान दौरे से अपना नाम वापस ले लिया है। श्रीलंका के खेल मंत्री हेरिन फनार्डो के अनुसार खिलाड़ियों के परिवार के सदस्यों ने भी सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की थी।

पाकिस्तान में श्रीलंका की टीम पर हो चुका है हमला
2009 में श्रीलंका क्रिकेट टीम 3 टेस्ट और 3 वनडे मैचों की सीरीज के लिए पाक दौरे पर गई थी। 1 मार्च से सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच शुरू हुआ था। 3 मार्च को लाहौर के लिबर्टी चौक पर श्रीलंका टीम की बस पर आतंकियों ने हमला कर दिया था। इसमें आठ आम नागरिक मारे गए थे, जबकि श्रीलंका टीम के स्टाफ समेत सात खिलाड़ी जख्मी हुए थे। इस घटना के बाद से सभी टीमों ने पाक दौरे से बॉयकॉट कर लिया था।

Sources:-Dainik Bhasakar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here