सोशल मीडिया पर छाया अकबरपुर के गांवों में धर्मांतरण का मामला, प्रशासन करेगा जांच

खबरें बिहार की

नवादा के अकबरपुर प्रखंड के गांवों में धर्मातरण की बातें सामने आई है। जिला प्रशासन मामले को लेकर सक्रियता बरत रहा है। देर रात अकबरपुर पुलिस धंधारी गांव पहुंची और मामले की जानकारी ली है, लेकिन किसी तरह का मामला उजाहर नहीं हुआ है। इधर, रजौली एसडीओ आदित्य कुमार पीयूष मामले पर नजर बनाये हैं। आपके अपने अखबार हिन्दुस्तान से बातचीत में उन्होंने बताया कि मामले की जानकारी मिली है।

 

प्रशासन धंधारी गांव में मामले की जानकारी ले रहा है। धंधारी गांव में ऐसा कोई मामला नहीं मिला है। उन्होंने बताया की प्रशासन सक्रिय है। पता लगाया जा रहा है कि किन परिस्थितियों में ऐसा कार्य हुआ है। यदि अवैध तरीके से धर्मांतरण कार्य हुआ है, तो प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा। उन्होंने बताया कि किसी भी व्यक्ति ने नियम विरुद्ध कोई कार्य किया, तो प्रशासन सख्ती बरतेगा। फिलहाल, अकबरपुर थानाध्यक्ष अजय कुमार मामले की जांच कर रहे हैं। 

सोशल मीडिया पर धर्मांतरण की बात हुई वायरल

 

बता दें कि शनिवार शाम सोशल मीडिया पर धर्मांतरण की बात वायरल हुई। बताया गया कि एक विशेष धर्म के लोगों का दूसरे धर्म में अंतरण कराया गया है। इसके बाद मामला गरमाया है। सूत्रों की मानें, तो खासकर महादलित वर्ग के लोगों को धर्मांतरित किये जाने की बात सामने आई है। डेरमा और सवैया गोपालपुर गांवों के महादलित टोलों के युवा विशेष प्रार्थना कर रहे हैं। हालांकि ग्रामीणों को इस संबंध में विशेष जानकारी नहीं है, लेकिन इन गांवों में बाहर से पहुंचने वाले व्यक्तियों को इसकी भनक लगी है। जिसके बाद महादलित टोलों के लोगों को समझाने का प्रयास कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.