स्लो प्वाइजन का काम करता है अंकुरित आलू, जानें इसे खाने के नुकसान

जानकारी

आलू एक ऐसी सब्जी है जिसे लगभग हर व्यक्ति पसंद करता है। खासकर बच्चों को तो आलू से कुछ खास ही लगाव होता है। आलू का एक फायदा यह भी है कि इसे किसी भी अन्य सब्जी के साथ मिलाकर आसानी से बनाया जा सकता है। यही वजह है कि लोग अक्सर अपने घर में एक बार में ही ज्यादा मात्रा में आलू खरीदकर रख लेते हैं। ऐसे में कई बार घर में रखे-रखे इन आलू में अंकुर आने लगते हैं। हालांकि, इसके बावजूद लोग इनका इस्तेमाल करते रहते हैं।

अंकुरित आलू के नुकसान

लेकिन क्या आप जानते हैं कि खाने में इन अंकुरित आलू का इस्तेमाल आपकी सेहत के लिए काफी हानिकारक साबित हो सकता है। इस तरह के आलू खाने से न सिर्फ ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाता है, बल्कि फूड पॉइजनिंग का भी खतरा भी बढ़ जाता है। दरअसल, नेशनल कैपिटल प्वाइजन सेंटर की रिपोर्ट के मुताबिक, प्राकृतिक तौर पर आलू में दो जहरीले पदार्थ सोलानिन और कैकोनिन पाए जाते हैं। हालांकि, शुरुआत में आलू में इसकी मात्रा काफी कम होती है। लेकिन बाद में जैसे-जैसे ये आलू अंकुरित होने लगते हैं वैसे-वैसे इसमें दोनों जहरीले तत्‍वों की मात्रा में बढ़ने लगती है।

हो सकती है फूड प्वाइजनिंग

ऐसे में लगातार इस तरह के आलू का सेवन करने से गंभीर परिणाम भुगतने पड़ते हैं। अंकुरित होने पर आलू में मौजूद कार्बोहाइड्रेट स्टार्च शुगर में बदल जाता है। इसके आपके शरीर में जाते ही आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है, जो ब्लड शुगर के मरीजों के लिए काफी हानिकारक हो सकता है। इसके अलावा अंकुरित आलू हमारे पाचन तंत्र को भी काफी नुकसान पहुंचाता है। इतना ही नहीं, अंकुरित आलू का सेवन हमारे लिए स्लो प्वाइजन

आलू को अंकुरित होने से ऐसे रोकें-

  • नमी वाले स्थान से हमेशा आलू को दूर रखें और हमेशा सुखाकर ही रखें।
  • कोशिश करें कि आलू को हमेशा पेपर बैग या सूती बैग में बांधकर रखें।
  • गर्म जगहों से दूर आलू को हमेशा ठंडी, हवादार और अंधेरे वाली जगहों पर ही रखें।
  • आलू और प्याज को कभी भी एक साथ ना रखें।
  • आलू को भूलकर भी फ्रिज में न रखें। इससे आलू में स्टार्च जमा हो जाएगा, जो शुगर में बदल सकता है।
  • घर में रखे आलू को सूरज की रोशनी से बचाकर रखें, ताकि वह अंकुरित ना हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.