हौसला बुलंद हो, तो कोई बाधा राह नहीं रोक सकती, 16 साल के स्पर्श शाह ने इस बात को साबित किया है। बीमारी के चलते स्पर्श की हड्डियां अब तक 130 बार टूट चुकी हैं। स्पर्श अब व्हीलचेयर पर ही रहते हैं। इतने विषम हालात के बावजूद स्पर्श का हौसला कमजोर नहीं पड़ा है। हाउडी मोदी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में स्पर्श राष्ट्रगान गाने जा रहे हैं। 

अमेरिका के न्यूजर्सी में रहने वाले स्पर्श शाह एक गायक और रैपर होने के साथ मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं। स्पर्श शाह को जन्म से ही आस्टियोजेनेसिस इम्परफेक्टा बीमारी है। इस बीमारी में हड्डियां बेहद कमजोर हो जाती हैं। हलकी सी चोट से भी हड्डी टूट सकती है। गंभीर बीमारी के बावजूद स्पर्श ने हिम्मत नहीं हारी और संगीत का सफर जारी रखा। अब वह अमेरिका के मशहूर रैपर एमनेम की तरह एक अरब लोगों के सामने अपनी प्रतिभा दिखाना चाहते हैं। स्पर्श की जिंदगी पर 2018 में ब्रिटल बोन रैपर नाम की डॉक्यूमेंट्री भी बन चुकी है। 

हाउडी मोदी कार्यक्रम में प्रस्तुति देने को स्पर्श बेहद खास अवसर मानते हैं। सपर्श ने कहा-इतने सारे लोगों के सामने राष्ट्रगान गाना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है। मैं भारत का राष्ट्रगान गाने के लिए उत्साहित हूं। मैंने पहली मोदीजी को मैडिसन स्क्वायर गार्डन में देखा था। मैं उनसे मिलना चाहता था, लेकिन मैं उन्हें केवल टीवी पर देख सका था। ईश्वर की कृपा से मैं अब मैं उनसे मिलने जा रहा हूं।

Sources:-Dainik Bhasakar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here