Shreyasi Singh

जमुई की बेटी Shreyasi Singh ने एशियाई चैंपियनशिप में ब्रांज जीत रचा इतिहास

Other Sports

बिहार की बेटी Shreyasi Singh ने फिर कमाल कर दिया है। उन्होंने एशियाई चैंपियनशिप के डबल ट्रैप में कांस्य जीत कर बिहार का नाम रौशन कर दिया है। Shreyasi Singh बिहार के जमुई के गिद्धौर की रहने वाली हैं।

उनके पिता दिग्विजय सिंह जाने-माने नेता थे। वो केन्द्रीय मंत्री भी थे। श्रेयसी की मां भी सांसद रह चुकी हैं। श्रेयसी के दादाजी और पिता भी निशानेबाजी से जुड़े रहे हैं।

श्रेयसी ने अपने पिता की राजनीतिक विरासत को संभालने की बजाय खेल को अपना कैरियर बनाया। शुरू में कई लोगों ने उनके मनोबल को तोड़ने की कोशिश की। लेकिन अपने पिता और परिवार के सपोर्ट की वजह से वो आगे बढ़ती रहीं। आज वो जहां हैं उसका पूरा क्रेडिट वो अपने परिवार और खास मित्रों को देती हैं।




आज उनका नाम देश के जाने-माने खिलाड़ियों में लिया जाता है। इससे पहले श्रेयसी 2012 और 2013 नेशनल गेम्स में गोल्ड मेडल भी जीत चुकी हैं। Shreyasi Singh ने अपने कैरियर की शुरुआत 2007 में की थी। श्रेयसी के कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक जीतने के बाद श्रेयसी की उपलब्धि से लोग काफी प्रभावित हुए थे।

इसके पहले Shreyasi Singh ने जयपुर में आयोजित 60 वीं राष्ट्रीय निशानेबाजी प्रतियोगिता के डबल ट्रैप शॉटगन प्रतियोगिता के महिला वर्ग के फाइनल में स्वर्ण पदक हासिल कर एक बार फिर इतिहास रच दिया था।




उन्होंने ग्लासगो में हुए 2014 राष्ट्रमण्डल खेलों में निशानेबाज़ी की डबल ट्रैप स्पर्धा में रजत पदक प्राप्त किया था।

Shreyasi Singh




Shreyasi Singh




Shreyasi Singh



Shreyasi Singh




Shreyasi Singh



Leave a Reply

Your email address will not be published.