श्राद्ध में पितरों के लिए जरूर बनाया जाता है खीर का प्रसाद, नोट करें बनाने का सही तरीका

खबरें बिहार की जानकारी

हिंदू धर्म में पितृ पक्ष का बहुत अधिक महत्व होता है। पितृ पक्ष को श्राद्ध पक्ष के नाम से भी जाना जाता है। पितृ पक्ष में पितरों का श्राद्ध और तर्पण किया जाता है। इस साल 10 सितंबर 2021 से पितृ पक्ष आरंभ हो गया और 25 सितंबर 2022 को पितृ पक्ष का समापन हो जाएगा। श्राद्ध के दौरान पितरों के लिए खीर का प्रसाद बनाने का विशेष महत्व बताया गया है। मान्यता है कि खीर का भोग लगाने से पितर प्रसन्न होते हैं और परिवार को खुशहाली का आशीर्वाद देते हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कैसे बनाई जाती है श्राद्ध के दौरान बनने वाली खीर।

खीर बनाने के लिए लगने वाली सामग्री-
-एक लीटर दूध-
-दो कटोरी मखाने
-चार चम्मच शक्कर
-दो चम्मच घी
-बादाम-
काजू की कतरन
-किशमिश


– पाव कटोरी बूरा (सूखा नारियल का)
– इलायची पाउडर
-आधा चम्मच केसर के लच्छे दूध में भीगे हुए।

खीर बनाने की विधि-

खीर बनाने की विधि-
खीर बनाने के लिए सबसे पहले एक कड़ाही में घी गर्म करके मखानों को भून लें। उसके बाद भूनें मखानों को प्लेट में निकाल कर ठंडे करके कूट लें। अब दूध को उबलने दें, जब दूध उबल जाए तो उसमें कूटे मखाने डालकर पकाएं और शक्कर डाल दें। खीर को गाढ़ा होने तक पकाएं। अब इसमें काजू-बादाम की कतरन, नारियल का बूरा, किशमिश, इलायची और केसर डालें। आपकी खीर बनकर तैयार है। गर्मा-गर्म प्लेट में डालकर सर्व करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.