देवघर: नये साल का पहला सोमवार 4 जनवरी को है. पहले सोमवार को बाबा नगरी में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ उमड़ेगी. सुलभ जलार्पण के लिए पानी, बिजली, सफाई, सुरक्षा व विधि व्यवस्था को लेकर मंदिर प्रशासन ने पूरी तैयारी कर रखी है. पहली जनवरी को आम भक्तों के लिए बाबामंदिर का पट खुलने से 50 हजार शिवभक्तों ने बाबा की पूजा की थी. ऐसे में पहली सोमवारी पर भी 10 से 15 हजार के आसपास भक्तों के आने की संभावना है.

सभी भक्तों को मानसरोवर फुट ओवर ब्रिज से क्यू कॉम्प्लेक्स, संस्कार मंडप होते हुए मंदिर मंझलाखंड प्रवेश कराया जायेगा. इसको देखते हुए सभी जगहों की सफाई, पानी व रोशनी की व्यवस्था की गयी है. मंदिर थाना को सजग रहने को कहा गया है. विधि व्यवस्था काे लेकर एक एसआइ व दो एएसआइ को मंदिर थाना में पदभार लेने को कहा गया है. इसको लेकर मंदिर प्रशासक सह डीसी एवं मंदिर प्रभारी सह एसडीओ दिनेश कुमार यादव खुद मॉनीटरिंग कर रहे हैं. पूरी व्यवस्था पर नजर बनाये हुए हैं.

नये वर्ष में दूर-दूर से भक्त पहुंच रहे हैं बाबा दरबार
कोरोना संक्रमण के मामले कम होने के बाद अब नये वर्ष में बाबा मंदिर में दूर-दूर से भक्त पहुंचने लगे हैं.

रविवार को पौष मास कृष्ण पक्ष पंचमी तिथि पर काफी संख्या में भक्त बाबा मंदिर पहुंचकर जलार्पण किये. इससे पहले बाबा मंदिर का पट प्रातः 3:05 बजे खुला. मंदिर पुजारी छोटे लाल झा व मंदिर दारोगा संजय मिश्र गर्भ गृह में प्रवेश किये. सर्वप्रथम पुजारी छोटेलाल झा ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच बाबा पर कांचा जल अर्पित की. इसके बाद तीर्थ पुरोहितों ने बारी-बारी से बाबा पर कांचा जल चढ़ाया.

आधे घंटे बाद पुजारी श्री झा ने बाबा की सरकारी पूजा शुरू की. बाबा को गंगाजल, दूध, दही, घी, मधु, नैवेद्य, फुल, विल्व पत्र, चंदन आदि अर्पित की. इसके बाद सभी भक्तों के लिए बाबा मंदिर का पट खोल दिया गया. मंदिर प्रशासन ने सभी भक्तों को मानसरोवर तट स्थित फुट ओवरब्रिज के प्रवेश द्वार से प्रवेश करते हुए बाबा मंदिर मंझला खंड में अरघा के माध्यम से बाबा बैद्यनाथ पर जलार्पण कराया. मंदिर में विधि व्यवस्था को लेकर हर प्वाइंट पर दंडाधिकारी, मंदिर कर्मी व पुलिस बल मौजूद थे.

Source: Prabhat khabar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here