कॉलेज के दिनों में कहां पता होता है कि आपकी मेहनत, प्रतिभा और किस्मत भविष्य में आपको कहां लेकर जाने वाली है। कुछ ऐसी बात एक बार जहन में आती है बिहार की बेटी सिंजनी कुमार के लिए!

सिंजनी कुमार , जो बिहार के जाने माने कॉलेज पटना विमेंस कॉलेज की छात्रा रह चुकी हैं। उन्होंने जब पेटीएम की सीईओ की उपाधि प्राप्त की थी तो बिहार गौरवान्वित महसूस कर रहा था। चारों तरफ ये खबर आग की तरह फ़ैल गई कि बिहार की बेटी पेटीएम की सीईओ बनने वाली हैं।

 

उनका कॉलेज हो या उनका परिवार सब लोग इस बात से बेहद खुश थे और हर जगह उनकी ही बात चल रही थी। किसान की बेटी ने कमाल कर दिया ! इससे पहले वे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में डिप्टी जनरल मैनेजर थीं|

समस्तीपुर के गांव में एक किसान परिवार में पैदा हुईं शिंजनी कुमार ने बालिका विद्यापीठ से पढ़ाई के बाद पटना विमेंस कॉलेज से अंग्रेजी में ग्रेजुएशन किया.

 

उसके बाद उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी में एमए की शिक्षा पूरी की. फिर अमेरिका के टेक्सास यूनिवर्सिटी से पब्लिक पॉलिसी में एमए किया.

पढ़ने के प्रति शिंजनी के जोश का आलम यह था कि अपनी पढ़ाई का खर्च उठाने के लिए शिंजनी ने बालिका विद्यापीठ में नौकरी भी की थी. उन्‍होंने अमेरिका के टेक्सास यूनिवर्सिटी के लिंडन जॉनसन स्कूल से पब्लिक पॉलिसी में एमए कोर्स किया है.

अमेरिका से पढ़ाई पूरी करने के बाद वह मार्च 1992 में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में डिप्टी जनरल मैनेजर बनीं और नवंबर 2007 तक इस पद पर रहीं. दिसंबर, 2007 में अमेरिका की वित्तीय संस्था मेरिल लिंच कंट्री कंपलायंस हेड के तौर पर जुड़ीं और अक्टूबर, 2007 तक यहां रहीं. 2010 से अब तक वे प्राइस वाटर्सकूपर डायरेक्‍टर पर पर काम कर रहीं हैं.

वे प्राइस वाटर हाउस कूपर्स (पीडब्लूसी) में कार्यकारी निदेशक के पद पर पांच साल से जुड़ी रही हैं और बैंकिंग, कैपिटल मार्केट और वित्तीय सेवाओं की प्रमुख रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here