शराबबंदी का सचः VIP पियक्कड़ के लिए स्पेशल हाजत, डबल बेड व सोफा के साथ होगी खातिरदारी

खबरें बिहार की

बिहार में पूर्ण शराबबंदी है। किसी भी व्यक्ति को पीने, पिलाने, शराब लाने, ले जाने या रखने की इजाजत नहीं है। पीने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जा रही है ताकि पूर्ण शराबबंदी का लक्ष्य पूरा हो सके। लेकिन शराब पीने के आरोपियों पर कार्रवाई में सरकार के स्तर पर भेदभाव शुरू हो गया है। समस्तीपुर में अब वीआईपी पियक्कड़ों  के लिए उत्पाद विभाग ने वीआईपी सुविधा की व्यवस्था की है। मुख्यालय के आदेश पर समस्तीपुर उत्पाद विभाग में वीआईपी व्यक्तियों को 24 घन्टे रखने के लिए वीआईपी हाजत का निर्माण कराया है।

समस्तीपुर उत्पाद अधीक्षक शैलेंद्र कुमार चौधरी ने बताया कि यह व्यवस्था मुख्यालय के आदेश पर किया गया है। इसमें सरकारी कर्मी, जनप्रतिनिधि सहित समाज के वैसे संभ्रांत व्यक्ति जो शराब पीते पकड़े जाते हैं तो उन्हें रखने के लिए वीआईपी हाजत का निर्माण किया गया है। जिसमें दो बेड, सोफा, टेबल आदि की व्यवस्था की गई है। साथ ही उनकी सुरक्षा के लिए वीआईपी हाजत के गेट पर एक प्रशिक्षित डॉग रखा गया है। डॉग को रखने के लिए भी कॉटेज का निर्माण गेट के पास ही किया गया है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए शनिवार को उत्पाद अधीक्षक ने बताया कि समस्तीपुर में शीघ्र ही पियक्कड़ों के घर पर एक पोस्टर चिपकाए जाएगा। जिसमें मैं पियक्कड़ हूं लिखा रहेगा। साथ ही पीने वाले व्यक्ति का पूरा विवरण भी उस पोस्टर में अंकित रहेगा  ताकि समाज के लोग यह जान सके यह शराबी है और समाज में उसे इज्जत नहीं मिल सके।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.