Patna: बिहार में वर्ग एक से लेकर 5 तक की कक्षाएं एक मार्च से खुल जाएंगी। 19 फरवरी को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में इस पर निर्णय हुआ था। इसको लेकर शिक्षा विभाग ने गाइडलाइन जारी कर दिया है। शिक्षा विभाग के अनुसार सरकारी स्कूल के बच्चों को जीविका के जरिए दो मास्क उपलब्ध कराए जाएंगे। विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने ग्रामीण विकास विभाग को इस बारे में पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने कहा है कि वर्ग 1 से लेकर 5 तक के स्कूल 1 मार्च से खोले जा रहे हैं। बैठक में निर्णय लिया गया है कि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को 2-2 मास्क उपलब्ध कराना है।

ग्रामीण विकास विभाग को लिखे पत्र में कहा गया है कि सभी जिलों में मास्क 28 फरवरी तक उपलब्ध करा दिए जाएं ताकि एक मार्च को सभी बच्चों को मास्क दिए जा सकें। पत्र में बताया गया है कि बिहार के सरकारी स्कूलों में लगभग एक करोड़ 6 लाख से अधिक बच्चे पढ़ रहे हैं जिनको मास्क देना है। सभी बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए 6-6 फीट की दूरी पर बैठना अनिवार्य होगा।

एक दिन में 50 प्रतिशत बच्चे ही स्कूल आएंगे। अगले दिन शेष 50 प्रतिशत बच्चे स्कूल आएंगे। स्कूल प्रशासन कोरोना से बचाव की गाइडलाइन के अनुसार सभी शर्तों का पालन सुनिश्चित कराएंगे। सरकारी स्कूल के बच्चों को जीविका के जरिए दो-दो मास्क उपलब्ध कराए जाएंगे।

स्कूल खुलने के 15 दिनों बाद आपदा प्रबंधन समूह की बैठक होगी और राज्य भर के स्कूलों की स्थिति की समीक्षा की जाएगी। सभी जिलों से रिपोर्ट मंगाई जाएगी। उसके बाद आगे स्कूल संचालन पर फैसला लिया जाएगा। इस दैरान सभी जिलों को सचेत तथा सतर्क रहने और लगातार निगरानी करने का निर्देश दिया गया है।

Source: Daily Bihar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here