स्‍कूल बताएंगे किन बच्‍चों को अब तक नहीं लगा कोरोना का टीका, घर से बुलाकर कराया जाएगा वैक्‍सीनेशन

खबरें बिहार की जानकारी

पटना में 15 वर्ष से अधिक और 18 वर्ष से कम आयुवर्ग के छूटे युवाओं को घर से बुलाकर टीकाकरण किया जाएगा। पटना जिले में 4 लाख 93 हजार किशोरों को 26 जनवरी तक कोरोना वैक्सीन की पहली डोज देने का लक्ष्य है। तीन जनवरी से अबतक सिर्फ 35 प्रतिशत का ही टीकाकरण किया जा सका है। इसे देखते हुए अब स्कूलों की मदद से ऐसे किशोरों को चिह्नित किया जा रहा है, जिन्होंने अबतक वैक्सीन नहीं ली है। ऐसे बच्चों को स्कूल में बुलास्‍कूलकर वैक्सीन दिलाने की तैयारी स्वास्थ्य विभाग कर रहा है।

सिविल सर्जन डॉक्टर विभा सिंह ने रविवार को बताया कि जिले में अब तक एक लाख 54 हजार 242 किशोरों को ही वैक्सीन दी जा सकी है। गत 20 दिन में जिले के 90 प्रतिशत से अधिक सरकारी व निजी स्कूलों में कैंप लगाकर टीकाकरण किया गया है। बोर्ड परीक्षा में टीकाकरण की बाध्यता को देखते हुए बहुत से किशोर वैक्सीन ले रहे हैं। बावजूद इसके जिन किशोरों ने अब तक टीका नहीं लिया है, उन्हें चिह्नित करने के लिए स्कूलों से आग्रह किया गया है।

वैक्सीन नहीं लेने वाले किशोरों को एक दिन स्कूल बुलवाकर व मेडिकल टीम भेजकर वैक्सीन दी जाएगी। इसके बाद छूटे बच्चों के घर मेडिकल टीम भेजने पर विचार चल रहा है। इस आयुवर्ग के टीकाकरण में राज्य के 38 जिलों में पटना 31वें स्थान पर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.