सर्दी-जुकाम में Mulethi का ऐसे करें सेवन, नाक का बहना, गले की खराश और बदन दर्द हो जाएगी छूमंतर

जानकारी

 खांसी और जुकाम सर्दी (cold and cough) के मौसम में आम है और हम सभी कभी न कभी इससे गुजरते हैं. लेकिन लगातार खांसी होना थकाने वाला और परेशानी भरा हो सकता है. तो, गले में खराश को शांत करने के लिए क्या किया जा सकता है? आपने अक्सर घर के बड़ों को इसमें मुलेठी चबाने की सलाह देते सुना होगा. आपके दिमाग में होगा क्या यह सच में काम करता है, तो इसका जवाब है हां. इसके फायदों के बारे में विज्ञान और आयुर्वेद दोनों ही बताते हैं. यह ना सिर्फ कोल्ड और कफ में बल्कि कई और बीमारियों में लाभकारी है. ऐसे में चलिए पहले जानते हैं किन 3 तरीकों से सर्दी जुकाम में इसका सेवन कर सकते

1- यदि आप गले में खराश से पीड़ित हैं, तो आप अपने गले को कुछ राहत प्रदान करने के लिए रोज सुबह मुलेठी के पानी से गरारे कर सकते हैं. एक गिलास गुनगुने पानी में 01 बड़ा चम्मच मुलेठी पाउडर मिलाएं और इससे गरारे करें, यदि आपके पास पाउडर नहीं है, तो आप बस कुछ स्टिक्स को पानी में उबाल सकते हैं, इसे ठंडा होने दें और फिर इसका इस्तेमाल करें.

2- मुलेठी की चाय भी बना सकते हैं. इसे आप दिन में 2-3 बार पीजिए. यह आपकी खांसी कम करने का काम बखूबी करेगा. इसके लिए आपको मुलेठी की कुछ स्टिक को एक कप पानी में उबालना होगा. उबाल आने के बाद गैस धीमी कर दें और 5 मिनट तक और पकने दें. आप इसमें कुछ अदरक, तुलसी और शहद भी मिला सकते हैं\

3- आप कुछ मुलेठी की डंडी को मिक्सर जार में ब्लेंड करके स्टोर कर सकते हैं. इससे आपको मुलेठी का पानी या चाय बनाने में आसानी होगी. आप एक चम्मच मुलेठी पाउडर को थोड़े से गर्म पानी के साथ भी पी सकते हैं.

 

\

मुलेठी के अन्य लाभ | Other benefits of mulethi

 

 

– पाचन में सुधार करता है.

– प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है.

 

– मासिक धर्म की ऐंठन से राहत प्रदान करता है.

 

– याददाश्त बढ़ाता है.

 

– त्वचा के लिए अच्छा है.

 

– डैंड्रफ और बालों के झड़ने जैसी समस्याओं से निजात दिलाता है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.