शराब तस्‍कर मंगल राय दिल्‍ली से गिरफ्तार, मुख्‍यारोपी का सहयोगी बार-बार बदल रहा था लोकेशन

खबरें बिहार की जानकारी

यूपी के विभिन्न शहरों में स्थित दवा कंपनी से होम्योपैथिक दवा, रसायन एवं स्पिरिट खरीद कर ट्रांसपोर्ट के माध्यम से छपरा मंगवा कर मढौरा अनुमंडल क्षेत्र में शराब बनाने के लिए वेंडरों को आपूर्ति कराने वाले शराब तस्कर मंगल राय को सारण पुलिस की एसआइटी ने दिल्ली पुलिस की क्राइम सेल की सहायता से गिरफ्तार कर लिया।

सारण जिला अंतर्गत इसुआपुर थाना क्षेत्र के अगौथर गांव निवासी शराब तस्कर मंगल राय पिता स्व रामदहिन राय को सारण पुलिस की एसआइटी एवं दिल्ली पुलिस के क्राइम सेल के अधिकारियों एवं जवानों ने नई दिल्ली के सागरपुर से गिरफ्तार किया। सारण के चर्चित जहरीली शराब कांड से दो दिन पहले 11 दिसंबर को उसने शराब बनाने के लिए वेंडरों को होम्योपैथिक दवा एवं रसायन पहुंचाया था।

लगातार ठिकाने बदल रहा था मंगल राय

मंगल राय जहरीली शराब कांड में पूर्व में गिरफ्तार जलालपुर थाना क्षेत्र के काही गांव निवासी राजेश सिंह उर्फ डाक्टर का प्रमुख सहयोगी था, लेकिन 13 एवं 14 दिसंबर को 30 घंटे के अंदर मशरक एवं इसुआपुर सहित मढौरा अनुमंडल के तरैया, मढौरा, पानापुर एवं अमनौर थाना क्षेत्र में जहरीली शराब कांड पीने से अचानक लगभग 40 लोगों की मौत होने की खबर सुनते ही मंगल राय भाग कर दिल्ली चला गया। पुलिस से बचने के लिए मंगल राय वहां लगातार ठिकाना बदल रहा था।

आधुनिक तकनीकी के उपयोग से मंगल राय तक पहुंची पुलिस

जहरीली शराब कांड की जांच एवं कार्रवाई के लिए गठित एसआइटी को मानवीय सूचना एवं तकनीकी साक्ष्य से इस बात की पूरी जानकारी मिली थी कि मंगल राय दिल्ली में छुपा है। जब उसका लोकेशन नई दिल्ली के सागरपुर इलाका लोकेट हुआ तो इंटर स्टेट क्राइम सेल की नई दिल्ली शाखा की सहायता ली गई। दिल्ली पुलिस के क्राइम सेल ने मंगल राय के ठिकाने को चिन्हित करने के साथ ही गुप्त रूप से उसकी घेराबंदी व निगरानी करते हुए बिहार पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना मिलते हीं दिल्ली पहुंची सारण पुलिस की एसआइटी ने दिल्ली पुलिस के साथ छापेमारी कर मंगल राय को गिरफ्तार कर लिया।

मंगल राय पर दर्ज है शराब तस्करी के नौ मामले

कुख्यात शराब तस्कर मंगल राय पर शराब तस्करी के नौ मामले मशरक, इसुआपुर एवं तरैया थाना में दर्ज है। वह कई बार जेल जा चुका है। वह मशरक, इसुआपुर एवं तरैया सहित मढौरा अनुमंडल के कई थाना क्षेत्र में शराब तस्करों का नेटवर्क बना चुका था। इस काम में उसके साथ इसुआपुर थाना क्षेत्र के डोईला गांव निवासी रामबाबू महतो प्रमुख सहयोगी के रूप में काम कर रहा था। जहरीली शराब कांड में अभी कई अन्य लोगों को गिरफ्तार किया जाना है।

मंगल राय के विरुद्ध दर्ज शराब तस्करी के मामले 

थाना- कांड संख्या – दिनांक – धारा

मशरक – 102/17 – 13 अप्रैल, 2017- 272/273 एवं 30(ए)/ 38/41

मशरक – 203/18 – 21जून, 2018- 30/30(ए)/38/41 ।

मशरक – 267/18 – 06.अगस्त, 2018,- 272/273 एवं 30/ 30(ए)/38/41

इसुआपुर – 176/17 -10.सितंबर,2017 -30/38/41

इसुआपुर – 134/18 – 11.सितंबर,2018 -30/38/41

इसुआपुर – 89/14 – 12 अगस्त.2014-272/273 एवं 47(ए)

तरैया – 295/16, 25 दिसंबर, 2016- 272/273/34 एवं 30(ए)/38/41

तरैया – 246/17 – 14.सितंबर, 2017 -272/273 एवं 30(ए)/38/41

तरैया – 266/21 – 18 अगस्त.21, धारा-30(ए) बिहार उत्पाद अधिनियम 2016

Leave a Reply

Your email address will not be published.