सहरसा और दरभंगा के बीच इसी महीने से चलेगी इंटरसिटी ट्रेन, लाखों की आबादी को होगा फायदा

खबरें बिहार की जानकारी

इसी माह सहरसा-दरभंगा नए रूट पर इंटरसिटी पैसेंजर ट्रेन दौड़ेगी। ट्रेन परिचालन शुरू करने को रेल प्रशासन जोरशोर से तैयारी में जुट गया है। रेलवे बोर्ड से ट्रेन परिचालन की तिथि आने के साथ ही परिचालन शुरू कर दिया जायेगा। सहरसा से सुपौल, निर्मली, सकरी, तमुरिया, झंझारपुर होकर दरभंगा तक ट्रेन के आने-जाने से कोसी-मिथिलांचल क्षेत्र की लाखों की आबादी को फायदा होगा। वे कम समय और खर्च पर आवाजाही कर सकेंगे।

समस्तीपुर मंडल के डीआरएम आलोक अग्रवाल ने कहा कि सहरसा-दरभंगा नए रूट पर ट्रेन परिचालन अप्रैल माह में शुरू होगी। ट्रेन परिचालन की तिथि के लिए लगातार संपर्क में हैं। ट्रेन परिचालन की तिथि जल्द ही रेलवे बोर्ड से आने की संभावना है।

उन्होंने कहा कि दो सिटी को कम समय और कम किराए पर सफर की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए इंटरसिटी पैसेंजर ट्रेन चलाई जाएगी। नए रूट पर सहरसा-दरभंगा के बीच आने-जाने वाली ट्रेन परिचालन का फायदा सुपौल, सरायगढ़, आसनपुर कुपहा, सकरी, निर्मली, झंझारपुर सहित अन्य जगहों के लोगों को होगा। इंटरसिटी पैसेंजर ट्रेन चलाने का उद्देश्य यह रहेगा अधिक जगह पर यह रुके और इससे परिचालन की सुविधा अधिकांश लोग उठा सके। तकनीकी कारणों से एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव कम जगह दिया जाता है इस कारण इंटरसिटी पैसेंजर ट्रेन चलेगी।

सहरसा-दरभंगा नए रूट से अवगत होने को लेकर ट्रेन चालक प्रशिक्षित हो चुके हैं। सहरसा और दरभंगा दोनों तरफ से इंजन से आवाजाही कर चालक लर्निंग करते यह देख चुके हैं कि कहां सिग्नल है। कहां रेल फाटक और अन्य चीज।

डीआरएम ने कहा कि इसी वित्तीय वर्ष में लौकहा बाजार को रेल नेटवर्क से जोड़ा जाएगा। इसी साल के जून या जुलाई माह में फारबिसगंज तक कनेक्टिविटी बहाल करने की भी योजना है। उसके बाद सहरसा-फारबिसगंज-सकरी-लौकहा बाजार पूरा 206 किमी रेलखंड को बड़ी रेललाइन में परिवर्तित कर ट्रेन चलाने का काम पूरा हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.