सब माफ है, नीतीश के 2017 में आरजेडी महागठबंधन छोड़ने के बाद वापसी पर राबड़ी देवी बोलीं

जानकारी

बीजेपी और एनडीए से अलग होकर नीतीश कुमार ने तेजस्‍वी यादव और राजद की अगुवाई वाले महागठबंधन के समर्थन से आठवीं बार बिहार के सीएम पद की शपथ ली तो इस मौके पर पुराने गिले-शिकवे भी भुला दिए गए। शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचीं तेजस्‍वी यादव की मां और बिहार की पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार के सवाल पर कहा कि ‘सब माफ है।’ बता दें कि कल इस्‍तीफा देने के बाद नीतीश कुमार ने 10 सर्कुलर रोड स्थित राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचकर उनसे मुलाकात की थी।

राबड़ी देवी के आवास पर ही नीतीश कुमार, तेजस्‍वी यादव और महागठबंधन के अन्‍य नेताओं के बीच आगे की रणनीति पर चर्चा की गई। इस दौरान नीतीश कुमार के साथ जेडीयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राजीव रंजन सिंह भी उर्फ ललन सिंह भी मौजूद रहे।

नीतीश कुमार आठवीं बार बने सीएम 

नीतीश कुमार ने 8वीं बार बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली है। पटना स्थित राजभवन में राज्यपाल फागू चौहान ने बुधवार दोपहर में उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। उनके साथ राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव ने भी मंत्री पद की शपथ ग्रहण की है। वे दूसरी बार राज्य के डिप्टी सीएम बने हैं। महागठबंधन की नई सरकार में मंत्रिपरिषद का गठन बाद में किया जाएगा। शपथ लेने के बाद तेजस्वी यादव ने ‘चाचा’ नीतीश का पैर छूकर आशीर्वाद लिया।

सुशील मोदी को नीतीश का मीठा जवाब 
नीतीश कुमार ने तेजस्‍वी यादव की अगुवाई वाले महागठबंधन के समर्थन से आठवीं बार सीएम पद की शपथ ले ली है। शपथ ग्रहण के दौरान पिछली सरकार में डिप्‍टी सीएम रहे और उनके करीब माने जाने वाले बीजेपी के राज्‍यसभा सांसद सुशील मोदी ने उन पर जमकर कर ट्वीट और जुबानी तीर छोड़े। जब इस बारे में सीएम नीतीश से पूछा गया तो उन्‍होंने मुस्‍कुराते हुए एक मीठा जवाब दिया। नीतीश कुमार ने कहा- ‘वे काहें नहीं बने रहे। वे बने रहते तो इसकी नौबत ही नहीं आती।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.